< पत्रकारों की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News आम लोगो का मिल रहा समर्थन, पूर्व विधायक सहित कर्मच"/>

पत्रकारों की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी

आम लोगो का मिल रहा समर्थन, पूर्व विधायक सहित कर्मचारी संगठनो के प्रतिनिधियों ने दिया समर्थन जिले सहित प्रदेश एवं देश भर में पत्रकारों पर बढ़ रहे जानलेवा हमले हत्या एवं फर्जी मुकदमे से भ्रष्टाचारियों के हौसले बुलंद हैं। भ्रष्टाचार को अंजाम देने वाले अधिकारी ठेकेदार एवं जनप्रतिनिधि पुलिस से मिलकर साजिश के तहत पत्रकारों पर फर्जी मुकदमे दर्ज करवाकर पत्रकारों की अभिव्यक्ति की आजादी को छीनने का प्रयास कर रहे हैं।

जिसके खिलाफ पन्ना जिले के पत्रकारों ने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल 20 जून 2019 को शुरू हुई दूसरे दिन 21 जून 2019 को नगर के कई समाजसेवी संस्थाओं के प्रमुखों एवं गणमान्य नागरिकों ने पत्रकारों के समर्थन में आगे आते हुए उनकी मांगों को जायज बताते हुए कहा कि देश में फैले भ्रष्टाचार अनियमितता अन्याय एवं अत्याचार को उजागर करते हुए जनता की मांग को शासन प्रशासन तक पहुंचाने एवं शासन प्रशासन की महत्वपूर्ण योजनाओं को आम जनता तक पहुंचाने वाले पत्रकारों पर हमला एवं फर्जी मुकदमे में बढ़ोतरी चिंता का विषय है।

भ्रष्टाचारियों द्वारा अपने काले कारनामों को छुपाने के लिए ऐसा किया जा रहा है। इस विकट परिस्थिति में पत्रकारों को एक होकर संघर्ष करने की आवश्यकता है। साथ ही सामाजिक संगठनों एवं गणमान्य नागरिकों एवं आम नागरिकों को भी उनके समर्थन में आगे आने की आवश्यकता है।

पत्रकार समाज एवं समाज के दबे कुचले लोगों के हित एवं अन्याय अत्याचार भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्य करते हैं। पत्रकारों के समर्थन में आगे आए गणमान्य नागरिकों में पूर्व विधायक श्रीकांत दुबे युवा कांग्रेसी नेता मृगेंद्र सिंह गहरवार भूपेंद्र सिंह परमार समाजसेवी सुदीप श्रीवास्तव वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रविंद्र शुक्ला धर्मेंद्र प्रताप सिंह अक्षय तिवारी सहित कई गणमान्य गणमान्य नागरिकों ने पत्रकारों के भूख हड़ताल स्थल जुगल किशोर मंदिर के सामने पहुंचकर उनकी मांगों को जायज बताते हुए समर्थन दिया।

साथ ही अलग-अलग जिलों एवं तहसीलों में बी पत्रकारों द्वारा उक्त घटना के खिलाफ ज्ञापन दिए जाने शुरू हो चुके हैं जिसमें 21 जून 2019 को हटा एवं लवकुश नगर में पत्रकारों द्वारा ज्ञापन देकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पत्रकारों की मांग पूरी करने की मांग की गई है।

ताकि पत्रकार निडर होकर अन्याय अत्याचार अनियमितता एवं भ्रष्टाचार उजागर कर सकें। उक्त भूख हडताल मे जिले के नागरिको का अच्छा समर्थन मिल रहा है पत्रकारो के पंडाल मे पूर्व विधायक श्रीकान्त दुबे ने बैठकर अपना समर्थन दिया तथा कर्मचारी संगठनो की ओर से शिक्षक कांग्रेस के कमलेश त्रिपाठी सहित अन्य संगठनो के प्रतिनिधियो ने भी हडताल का समर्थन किया तथा कहा की पत्रकारो द्वारा की जा रही मांगे तत्काल पूर्ण की जाये।

अन्य खबर

चर्चित खबरें