< सूरज का प्रकोप जारी, पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News गर्मी का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। तपिश से लोगों का हाल बु"/>

सूरज का प्रकोप जारी, पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा

गर्मी का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। तपिश से लोगों का हाल बुरा हो रहा है। गर्मी दिन पर दिन बढ़ रही है। सूरज ने अंगारे बरसाए। पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। जिसके चलते हर किसी को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। धूप की प्रचंडता देखकर लोगों की हिम्मत घर से निकलने की नहीं हो रही थी।

कूलर पंखे ने काम करना ही बंद कर दिया है। दोपहर होने के पहले ही सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। राहगीरों से लेकर पशु पक्षी सभी बेहाल हो गए। लू के थपेड़े झुलसाते हुए प्रतीत हो रहे थे। दिन ढलने के बाद भी लू का अहसास हो रहा था। इस बार गर्मी ने सभी को परेशान कर डाला है। भीषण तपिश जानलेवा साबित हो रही है। सुबह से ही झुलसाने वाली गर्मी का सामना लोग कर रहे हैं। सुबह से कड़ी धूप निकली जिससे वातावरण काफी गर्म हो गया। दस बजे के पहले तक सड़कें आग की तरह तपने लगीं।

पैदल चलना तक दूभर साबित हो रहा था। आटो या किसी दूसरे वाहन से सफर करने वाले लोग भी सिर को गमछे से लपेटे हुए थे ताकि धूप के थपेड़ों से बचा जा सके। पैदल राहगीर जहां छायादार स्थान देखते वहीं बैठ जाते थे। दोपहर होते ही सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। इक्का दुक्का वाहन ही आते जाते दिखाई दे रहे थे। पंखे कूलर की हवा काम नहीं कर रही थी। पशु पक्षियों के लिए भी यह गर्मी बेहद परेशान करने वाली प्रतीत हो रही है। शाम तक गर्मी से लोग बेहाल दिखाई दिए। 11 से चार बजे तक न निकलें बाहर बढ़ती गर्मी पर डॉ. राहुल सचान और डॉ. संजीव अग्रवाल कहते हैं कि इस समय लोगों को सूती वस्त्र पहनकर व शरीर ढककर ही बाहर निकलना चाहिए। अगर जरूरी न हो तो 11 बजे से 4 बजे तक घर से धूप में न निकलें। यूं करें बचाव

 

अन्य खबर

चर्चित खबरें