< मंडी में तीन दिन से नहीं हुई खरीदी, किसानों ने किया चक्काजाम Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News तीन दिनों से उपज की खरीदी बंद होने से नाराज किसानों ने सोमवार सु"/>

मंडी में तीन दिन से नहीं हुई खरीदी, किसानों ने किया चक्काजाम

तीन दिनों से उपज की खरीदी बंद होने से नाराज किसानों ने सोमवार सुबह 11 बजे कृषि उपज मंडी में जाम लगा दिया। मौके पर पहुंचे एसडीएम मनोज प्रजापति ने किसानों से बात करने की बजाय व्यापारियों से बंद कमरे में बात की। इस पर किसान भड़क गए और जमकर नारेबाजी की। करीब एक घंटे बाद सिविल लाइन थाना प्रभारी प्रीति भार्गव मौके पर पहुंची और उन्होंने समझाया तब जाकर किसान माने। इसके बाद व्यापारियों ने खरीदी चालू कर दी। किसानों ने बताया कि मंडी में पेयजल और भोजन के इंतजाम नहीं हैं। व्यापारी भी तीन दिनों से खरीदी नहीं कर रहे। इस कारण किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। किसानों ने एसडीएम से भी बात की, पर कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। इसी वजह से किसानों ने जाम लगा दिया।

घर में शादी, फसल नहीं बिकी तो कै से चलेगा काम

किसानों ने बताया कि उनके घर पर बेटी की शादी है। तीन दिन से गेहूं की तुलाई नहीं की गई। आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। पैसे मजबूरी में उधार लेने पड़ रहे हैं। कुछ किसानों ने बताया कि गेहूं समर्थन मूल्य पर बेच दिया, पर अभी तक खाते में रुपए तक नहीं आए हैं। कलेक्टर से भी शिकायत की गई है।बताया गया कि जिले की भांडेर, इंदरगढ़ मंडी में भी अव्यवस्थाएं हैं। टीआई सिविल लाइन ने बताया कि कि सानों की कुछ समस्याएं थी। इसके चलते किसानों ने चक्काजाम कर दिया था। मौके पर पहुंचकर कि सानों को आश्वासन दिया गया है, तब जाकर वह माने और वहीं दूसरी ओर खरीदी भी शुरू की गई।

About the Reporter

  • ,

अन्य खबर

चर्चित खबरें