< न्याय न मिलने पर फौजी परिवार समेत अनशन पर बैठा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News पुलिस द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न व न्याय न मिलने से खफा फौजी ने अप"/>

न्याय न मिलने पर फौजी परिवार समेत अनशन पर बैठा

पुलिस द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न व न्याय न मिलने से खफा फौजी ने अपने परिवार समेत कलेक्ट्रेट के गोल चबूतरे में क्रमिक अनशन शुरू कर दिया। जानकारी एसडीएम सदर अजीत परेश व सीओ अनुराग सिंह को हुई तो वह फौजी के परिवार से मिले और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। बाद में फौजी ने अनशन समाप्त कर दिया। फौजी रावेंद्र सिंह की पत्नी सरिता ने जिलाधिकारी को दिए गए प्रार्थना पत्र में अवगत कराया है कि वह पैलानी रोड स्थित किशोरी गेस्ट हाउस के पास रहती हैं। पति भारतीय सेना में कार्यरत है। महिला ने 5 अगस्त 2018 को थाना सुमेरपुर में एक मुकदमा लिखाया था। जिसकी जांच नरेंद्र यादव एसआइ द्वारा की गई।

जांचोपरांत व समस्त साक्ष्यों को देखकर व जानकर 29 अक्टूबर को आरोप पत्र दाखिल कर दिया गया लेकिन आरोपित राहुल पुत्र रणवीर सिंह भदौरिया की पहुंच अच्छी होने के कारण आरोप पत्र पुन: विवेचना के नाम पर थाना सुमेरपुर में वापस करा लिया गया और करीब आठ माह बीतने के बाद थाना पुलिस द्वारा न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल नहीं किया गया। जिससे अपराधी के हौसले बुलंद हैं तथा फौजी व उसके परिवार के साथ किसी भी समय कोई अप्रिय घटना हो सकती है।

आरोपित आएदिन धमकी भी देते हैं। कई बार उच्चाधिकारियों से शिकायत करने के बाद समस्या का निस्तारण नहीं हो सका। जिसके कारण वह परिवार सहित अनशन पर बैठ गए। जैसे ही इसकी जानकारी एसडीएम सदर अजीत परेश व सीओ अनुराग सिंह को हुई तो वह मौके पर पहुंचकर फौजी के परिवार से मिले और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। जिस पर फौजी ने अनशन समाप्त कर दिया।

अन्य खबर

चर्चित खबरें