< जगह-जगह गंदगी व जलभराव से जीना मुश्किल हो रहा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सरकार की महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण क्षेत्र"/>

जगह-जगह गंदगी व जलभराव से जीना मुश्किल हो रहा

सरकार की महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण क्षेत्रों में मुंह चिढ़ा रही है। गंदगी से पटी नालियां व लोगों के घरों के सामने भरे गंदे पानी के चलते लोगों को सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है। जिससे संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा है। पत्योरा निवासी अशोक कुमार सोनकर ने बताया गांव के अंदर से खदान का रास्ता होने से सड़क के दोनों ओर बनी नालियां जाम हो गई हैं। एक माह से गंदा पानी दरवाजे के सामने इकट्ठा हो रहा है। जिससे उठने वाली बदबू से सांस लेना मुश्किल है। गांव में तीन सफाई कर्मी तैनात हैं। लेकिन दो सफाई कर्मी बीते चार माह से नदारद हैं। सिर्फ एक ही महिला सफाई कर्मी मौजूद है।

वहीं पचखुरा बुजुर्ग निवासी सुरेंद्र कुमार (मुखिया) व कालका प्रसाद कुटार ने बताया गांव में सफाई कर्मी महीनों से नजर नहीं आए। खेरापति मंदिर से कन्या प्राइमरी स्कूल तक करीब तीन सौ मीटर रास्ता दलदल युक्त हो गया है। कभी ग्रामीण खुद ही सफाई करते हैं। एडीओ पंचायत चंद्रकुमार सिंह चंदेल ने कहा कि क्षेत्र में कुल 118 सफाई कर्मियों की तैनाती है। अभी भी सफाई कर्मियों की काफी कमी है। गुरुवार को सभी की मीटिंग बुलाई गई है। जहां से भी ऐसी शिकायतें आ रही हैं। वहां सफाई कर्मियों को भेजकर समस्या का समाधान कराया जाएगा। 
 

About the Reporter

  • ,

अन्य खबर

चर्चित खबरें