< बेटी की डोली से पहले उठी पिता की अर्थी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News घर में बेटी की शादी की खुशियां चल रही थी, मंगल गीत के साथ मंडप की त"/>

बेटी की डोली से पहले उठी पिता की अर्थी

घर में बेटी की शादी की खुशियां चल रही थी, मंगल गीत के साथ मंडप की तैयारियां हो रही थी। तभी अचानक पिता की संदिग्ध परिस्थितियों में हालत बिगड़ गई। आनन फानन में परिजन उसे अस्पताल ले आए जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

घर में शादी की खुशियां मातम में बदल गई। थाना मझगवां के देवरा गांव निवासी खेमराज ने बताया कि उसका 45 वर्षीय चचेरा भाई रामसिंह पाल पुत्र गुद्दा पाल अपनी दस बीघा कृषि योग्य भूमि पर खेतीबाड़ी कर परिवार का गुजर बसर करता था।

 

उसने अपने इकलौते पुत्र की शादी तो पहले ही कर दी थी और पुत्री विशना की शादी कोतवाली क्षेत्र के मवई गांव के वीरेन्द्र पुत्र हर नारायण के साथ तय कर दी थी। मंडप का कार्यक्रम चल रहा था। जिसके लिए तैयारियां हो रही थी। महिलाएं मंगल गीत गाकर रस्में निभा रही थी। बुधवार को बेटी की बरात आनी थी।

 

तभी रामसिंह की हालत बिगड़ने लगी और वह बेहोश होकर गिर गए। घर में परिजन और रिश्तेदारों में कोहराम मच गया।आनन फानन में रामसिंह को सरकारी अस्पताल लाया गया। जहां डा.संतोष मिश्रा ने मृत घोषित कर दिया।

 

राम सिंह की मौत से शादी की खुशियां मातम में बदल गई। पत्नी, पुत्र और पुत्री विशना का रो रोकर बुरा हाल हो रहा है। डा. संतोष मिश्रा ने बताया कि कोतवाली को मेमो भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही राम सिंह की मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

About the Reporter

  • ,

अन्य खबर

चर्चित खबरें