< सीएचसी और पीएचसी में की गई रक्तचाप की जांच Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News गोष्ठी में जानकारी देते सीएमओ  

सभी सामुद"/>

सीएचसी और पीएचसी में की गई रक्तचाप की जांच

गोष्ठी में जानकारी देते सीएमओ  

सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर गोष्ठी आयोजित की गई। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कर्वी के तत्वावधान में उच्च रक्तचाप दिवस पर राजकीय बालिका इंटर कालेज कर्वी में गोष्ठी आयोजित की गई।

इस दौरान लोगों को बताया गया कि 30 साल की उम्र पूरी कर चुके हर व्यक्ति को साल में एक बार रक्तचाप की जांच अवश्य करवानी चाहिए। रक्तचाप बढ़ा होने पर चिकित्सक की परामर्श के अनुसार जीवनशैली और खान पान में बदलाव लाना चाहिए।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेंद्र सिंह ने बताया कि सभी सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में उच्च रक्तचाप दिवस पर गोष्ठी आयोजित कर इसके प्रति लोगों को जागरूक किया गया। इसके साथ उच्च रक्तचाप की निशुल्क जांच की गई। उन्होने बताया कि शनिवार को भी सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर उच्च रक्तचाप की जांच की जाएगी।

राजकीय बालिका इंटर कालेज कर्वी में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मेजर वीके सिन्हा ने किया। उन्होंने बताया कि उच्च रक्तचाप देश के लिए गंभीर समस्या बन चुका है। यह बदलती जीवनशैली, खानपान, प्रदूषण, मानसिक तनाव के कारण दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है।

जिसके के कारण मष्तिष्क, हृदय, गुर्दा और अन्य अंग प्रभावित हो रहे है। इसलिए इसे नजर अंदाज करने पर यह जानलेवा साबित हो सकता है। इसमें इलाज से बेहतर बचाव और इसके प्रति जागरूकता है। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कर्वी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ विशाल दिवाकर ने बताया कि 30 वर्ष की आयु पूरी कर चुके सभी लोगों को साल में एक बार रक्तचाप की जांच अवश्य करानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यदि रक्तचाप सामान्य है तो कोई बात नहीं।यदि रक्तचाप बढ़ा हुआ है तो चिकित्सक की परामर्श के अनुसार जीवनशैली और खान पान में बदलाव लाना चाहिए। चिकित्सक यदि दवाएं देते हैं तो जीवनपर्यंत उनका सेवन करना चाहिए। बीच बीच में चिकित्सक से सलाह लेते रहना चाहिए।

बिना चिकित्सक की सलाह के दवाओं का सेवन बंद नहीं करनी चाहिए। ऐसा करना घातक साबित हो सकता है। लोग यह सोचकर रक्तचाप की जांच नहीं कराते हैं कि बेवजह एक और परेशानी खड़ी हो जाएगी। यह सोच गलत है, समस्या का समाधान उससे दूर भागने से नहीं है, बल्कि उसका डटकर मुकाबला करने से निकलेगा।

उच्च रक्तचाप विषय पर निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें छात्राओं ने बढ़चढ़कर भागेदारी की। इसमें रजनी देवी प्रथम, प्रांजलि तिवारी द्वितीय और नंदनी जाटव को तीसरा स्थान मिला। प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं को पुरस्कृत किया गया।

इस मौके पर राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्रधानाचार्य पुष्पा वर्मा, शिक्षिकाएँ, अर्बन हेल्थ कोआर्डिनेटर रूप नारायण, अभिनंदन सिंह, गर्व तिवारी, साधना पाण्डेय, राषिद, रमाकांत सहित तमाम छात्राएं मौजूद रहीं। 
 

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में परास्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, एम.ए.

अन्य खबर

चर्चित खबरें