< पेयजल संकट गहराया, बूंद-बूंद पानी के लिए लोग परेशान Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News चरखारी क्षेत्र में इन दिनों लोग भीषण जलसंकट से परेशान हैं। यहां "/>

पेयजल संकट गहराया, बूंद-बूंद पानी के लिए लोग परेशान

चरखारी क्षेत्र में इन दिनों लोग भीषण जलसंकट से परेशान हैं। यहां के अधिकांश जलस्त्रोत सूख गए हैं। लोग बूंद-बूंद पानी के लिए परेशान हैं। लगातार कई वर्षों से भयंकर सूखे की विभीषिका झेल रहे महोबा जिले के लोगों को इन दिनों 46 डिग्री के तापमान में बूंद-बूंद पानी के लिए तरसना पड़ रहा है।

महोबा जिले के अंतर्गत चरखारी अंचल जलसंकट की चपेट में है। मई की झुलसाने वाली गर्मी में लगातार गिर रहे भू-गर्भ जलस्तर के कारण क्षेत्र के अधिकांश कुएं, तालाब सूख गए हैं। एक के बाद एक हैंडपंप जवाब देते जा रहे हैं।

समूचे चरखारी क्षेत्र के पेयजल की लाइफ लाइन कही जाने वाली अर्जुन पेयजल योजना भी जल संस्थान विभाग की उदासीनता के कारण जगह-जगह से पाइप लाइन खराब हो गई है।अर्जुन बांध में पानी के कम होने के कारण क्षेत्र की जनता की प्यास नहीं बुझ पा रही है।

जल संस्थान नगर में हफ्ते में दो बार पानी की सप्लाई देता है वो भी बमुश्किल आधा घंटे के लिए। ऊंचाई वाले इलाकों में पानी की एक बूंद भी नहीं पहुंच पाती है। चरखारी के एक दर्जन से अधिक वार्डों में खंदिया, हटवारा, वासुदेव, तुर्कियाना, धनुषधारी मंदिर, राजमंदिर, रुपनगर, रायनपुर, ज्येन्द्रनगर सहित आसपास के ग्रामीण अंचल में लोग पानी के लिए परेशान हैं।

लोगों का कहना है कि नगर पालिका द्वारा अभी तक टैंकरों द्वारा पानी की सप्लाई प्रारंभ नहीं की गई है। जबकि पिछले वर्ष अप्रैल माह से ही नगर पालिका एवं जल संस्थान ने टैंकरों द्वारा नगर में पानी की सप्लाई प्रारंभ कर दी थी।

इसके साथ ही नगर पालिका ने अभी तक सार्वजनिक स्थानों पर प्याऊ भी शुरू नहीं कराए हैें। जल संस्थान के जेई मनोज कुमार का कहना है कि पाइप लाइन के लीकेज ठीक कराके शीघ्र ही पेयजल की समुचित सप्लाई शुरू करा दी जाएगी।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें