< तखत ग्रुप फिर निकला जलपात्र बांटने Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News घर.घर जाकर लोगों को किया जागरूक

बच्चों के च"/>

तखत ग्रुप फिर निकला जलपात्र बांटने

घर.घर जाकर लोगों को किया जागरूक

बच्चों के चेहरों पर खिली हंसीए दिखे खुश चांदमारीए शिवनगर व बैंक कालौनी में हुआ जलपात्र का वितरण गौरैया चिडिय़ा को शीतल जल मुहैया कराने के उद्देश्य से मंगलवार को तखत ग्रुप सदस्यों ने जलपात्र वितरण का दूसरा चरण उत्साहपूर्वक संपन्न किया।

जलपात्र वितरण के दूसरे पड़ाव में जहां एक ओर छोटे.छोटे बच्चों के चेहरों पर गौरैया चिडिय़ा को संरक्षित करने के लिए एक नई उमंग स्पष्ट दिखायी दी तो वहीं कई बच्चों ने जिज्ञासावश तखत ग्रुप सदस्यों से सवाल भी पूछे। मंगलवार को शहर के पॉश इलाके चांदमारीए शिवनगर व बैंक कालोनी में करीब दो सैकड़ा से अधिक जलपात्रों का वितरण कर लोगों से सुबह.शाम जलपात्रों में शीतल पेयजल भरने की व्यवस्था बनाये रखने का आह्वान किया गया।

तखत ग्रुप सदस्यों ने कहा कि गौरैया चिडिय़ा अपने अस्तित्व के लिए संघर्षरत है। पहले समय में गौरैया चिडिय़ा जहां एक ओर घर के आंगन में सुबह से आकर चहचहाती थी और घर के बच्चों के अभिन्न मित्र बनकर सभी के हृदय में अपनी एक अलग पहचान बना लेती थी।

लेकिन जैसे जैसे समय बदलाए तैसे ही आधुनिकता की चकाचौंध में पेड़ों के अवैध कटान एवं खेत.खलिहानों में होने वाले कीटनाशकों के अत्याधिक प्रयोग से गौरैया चिडिय़ा का अस्तित्व खतरे में आ गया। गौरैया को रहने के लिए घौंसले और खाने के लिए दाने और कीट इत्यादि मिलना मुश्किल हो गये।

लेकिन अब गौरैया चिडिय़ा के संरक्षण के लिए कई संगठन आगे आये हैं। गौरैया चिडिय़ा को गरमी से बचाने के लिए तखत ग्रुप की बेहतर सोच का परिणाम है कि शहर भर में जलपात्रों का वितरण कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। तखत ग्रुप सदस्यों ने लोगों से आह्वान किया कि वह अपनी छतों पर सुबह.सुबह गौरैया चिडिय़ा के लिए गेंहू व चावल के दाने भी डालेंए ताकि वह इन्हें खाकर जीवन यापन कर सके।

 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें