< पेयजल संकट करने वालों को भाजपा के चैकीदारों ने पकड़ा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News शहर में पेयजल समस्या के लिये कुछ दबंग जिम्मेदार हैं जो ज"/>

पेयजल संकट करने वालों को भाजपा के चैकीदारों ने पकड़ा

शहर में पेयजल समस्या के लिये कुछ दबंग जिम्मेदार हैं जो जल संस्थान के आपरेटर पर दबाव डालकर जबरन  अपने-अपने इलाके में जलापूर्ति कराते थे। जिससे कई मोहल्लों में पेयजल संकट उत्पन्न हो जाता था। इसका खुलासा रातभर चैकीदारी करके विधायक प्रतिनिधि रजत सेठ व उनके एक सहयोगी आशीष पाण्डेय ने किया।

सोमवार को भाजपा विधायक प्रकाश द्विवेदी के प्रतिनिधि रजत सेठ ने बताया कि मैंने अपने साथी आशीष पाण्डेय के साथ जेल के पास बनी टंकी पर रातभर चैकीदारी की। इस बीच तड़के वहां मुन्नीलाल निषाद, जेपी यादव, राजेश गौतम सभासद और जेपी सिंह आये और आपरेटर ललित से चाभी छीनकर अपने-अपने इलाके की ओर पानी सप्लाई करने का दबाव डालने लगे तब हमने हस्तक्षेप करके नियमानुसार पानी चलाने को कहा तब जाकर कटरा, बन्योटा और केवटरा की ओर जलापूर्ति शुरू हो सकी।  

उधर पम्प आपरेटरललित ने पूछने पर बताया कि मुन्नीलाल निषाद खुद  हैं जो अक्सर मुक्तिधाम की तरफ पानी चलाने को मजबूर करते हैं। इसकी शिकायत उन्होंने कई बार जेई श्यामराज से की है लेकिन जेई ने उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया।आपरेटर ने बताया कि आज दबंगों की शिकायत भाजपा नेताओं ने भी की हैं जिनके प्रयासों के बाद  आज जलापूर्ति ठीक रही।


सदर विधायक के लोगों पर जल संस्थान के टैंकरों को कब्जा करने का आरोप

इस बीच नगरपालिका अध्यक्ष मोहन साहू ने कहा कि जनपद में पानी की समस्या इन दिनों इतनी बढ़ गई है कि जगह जगह पानी को लेकर आंदोलन हो रहे हैं। जलसंस्थान के 27 नगरपालिका के 5 व सदर विधायक के भी 5 टैंकर शहर की प्यास नहीं बुझा पा रहे हैं। विधायक के लोग इसमें अपनी मनमानी कर रहे हैं। ये लोग अपने टैंकरों के साथ-साथ नगर पालिका व जलसंस्थान के टैंकरों को भी अपनी मनमानी करके चला रहे हैं।

जनता द्वारा जो टैंकरों की मांग जलसंस्थान के रजिस्टरों में दर्ज होती है उसकी सूची विधायक के लोग अपने कब्जे में लेकर अपनी मनमानी से टैंकर भिजवाते हैं। जिससे जनता को पानी नहीं मिल पा रहा है।
नगर पालिका चेयरमैन मोहन साहू ने विधायक केे लोगों पर गुंडागर्दी के आरोप लगाये। उन्होंने कहा कि विधायक के लोगों ने नगर पालिका के टैंकरों को कैप्चर कर लिया था, साथ ही हमारे ड्राइवर के साथ गाली-गलौज की और मुझे भी फोन पर गालियां दी।

उधर विधायक प्रतिनिधि रजत सेठ ने सारे आरोपों को गलत बताया साथ कहा कि चेयरमैन के द्वारा जो आरोप लगाए गए हैं वो गलत हैं। शहर की जनता की प्यास प्राथमिकता में बुझाना हमारा लक्ष्य है, जिसे हम कर रहे हैं। हम सिर्फ अपने टैंकरों का संचालन कर रहे हैं। अन्य विभागों के टैंकर से हमारे लोगों का कोई लेना देना नहीं है।

इस वक्त जनपद में पानी को लेकर हाहाकार मचा है। और चेयरमैन सिर्फ राजनीतिक रंग देकर जनता के जज्बातों से खेलना चाह रहे हैं। इस वक्त आरोप लगाने के बजाए समस्या के निदान के लिए उन्हें आगे आना चाहिए।
 

अन्य खबर

चर्चित खबरें