< भतीजियों की शादी से पहले चाचा ने लगाई फांसी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News घर में शादी की खुशियां चल रही थी और इधर चाचा ने फांसी लगाकर अपनी ज"/>

भतीजियों की शादी से पहले चाचा ने लगाई फांसी

घर में शादी की खुशियां चल रही थी और इधर चाचा ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। घटना के बाद शादी वाले घर में कोहराम मच गया। कोतवाली क्षेत्र के अकौना गांव निवासी 45 वर्षीय जुगल किशोर पुत्र जियालाल दिल्ली में रहकर मजदूरी कर अपने परिवार का गुजारा करता था। वह अपने छोटे भाई मदनपाल की पुत्रियां खुशबू और रोशनी की शादी में शामिल होने के लिए गत 26 अप्रैल को घर आया था। दोनों की शादी सात मई को होनी है। घर में शादी की तैयारियां चल रही थी। मंडप कार्यक्रम में रिश्तेदार और पड़ोसियों का खुशियों के साथ जमावड़ा लगा हुआ था।

देर रात जब जुगल किशोर को खाना खाने के लिए बुलाया तो कमरे का दरवाजा लगा हुआ था। भाई वीरपाल ने पीछे के रास्ते कमरे में झांका तो उसके होश उड़ गए। कमरे में जुगल किशोर लटका हुआ था। परिजनों ने उसे फंदे से उतारा और आनन-फानन सरकारी अस्पताल लाए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जाता है कि जुगल किशोर बेहद गरीबी के दौर से गुजर रहा था। घर में शादी थी और उसके पास कपड़े आदि सामान खरीदने के लिए पैसे नहीं थे। आर्थिक तंगी से जूझ रहे जुगल किशोर ने फांसी लगा ली। जुगल किशोर, मदन पाल और वीरपाल भाई हैं और तीनों के हिस्से में मात्र डेढ़ बीघा कृषि भूमि है। जुगल किशोर अपने पीछे पत्नी पुष्पा, पुत्र धीरेंद्र, इंद्रजीत, पुत्री माया और विक्रम को छोड़ गया है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें