< पानी की किल्लत से टैंकर देखकर टूट पड़ी मोहल्लेवासियों की भीड़ Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News भीषण गर्मी में पठानपुरा वार्ड नंबर तीन में पानी की किल्लत से मोह"/>

पानी की किल्लत से टैंकर देखकर टूट पड़ी मोहल्लेवासियों की भीड़

भीषण गर्मी में पठानपुरा वार्ड नंबर तीन में पानी की किल्लत से मोहल्लेवासियों में हाहाकार मचा हुआ है। मोहल्लेवासी एसडीएम से मिलने पहुंचे। लेकिन शिकायत नहीं हो सकी। जिससे लोगों में रोष व्याप्त है।तकरीबन दो हजार की आबादी वाले पठानपुरा वार्ड नंबर तीन के पूरे मोहल्ले में मात्र 2 हैंडपंप चल रहे हैं। जो खारा पानी दे रहे हैं। जिस पर सुबह शाम पानी भरने महिलाएं और बच्चों की खासी भीड़ लगी रहती है। मोहल्ले की देवकी, ममता, लता, रजनी, चंदा, रिजवाना, त्रिवेणी, शांति देवी, निशा, आरती देवी आदि महिलाओं ने बताया कि गत 22 दिन से पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है। जल संस्थान से कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। इधर टैंकर से पेयजल आपूर्ति करने का प्रयास किया जा रहा है जो पूरी तरह विफल हो साबित हो रहा है।

शाम को टैंकर आते ही पानी भरने वालों की भीड़ लग जाती है। मोहम्मद शमीम खान, मकबूल अहमद, जागेश्वर, पूरन साहू, रवि, सोनू रैकवार, शमशाद, अच्छेलाल, किशनलाल आदि ने बताया कि पेयजल आपूर्ति बाधित होने की शिकायत गत 2 मई को एसडीएम से की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। आधा सैकड़ा मोहल्ले वासी एसडीएम सुरेश कुमार से मिलने कार्यालय पहुंचे। लेकिन उनके न मिलने से मायूस लौट गए।

मोहल्ले वासियों ने जल संस्थान के अधिकारी और कर्मचारी पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि शीघ्र ही मोहल्ले में पेयजल की आपूर्ति नहीं गई की गई तो प्रदर्शन किया जाएगा।सुबह होते ही महिला और बच्चे पानी भरने के लिए हैंडपंप पर पहुंच जाते हैं। भीड़ बढ़ती हैं और पानी भरने को लेकर तकरार होती है। यह क्रम सुबह 6 बजे से 11 बजे तक चलता है। शाम को टैंकर आते ही पानी की लूट ऐसे ही मची जाती है। गत 4 दिन पहले टैंकर के नीचे दबकर एक मासूम बच्चे के दोनों पैर फ्रेक्चर हो गए। फिर भी जल संस्थान के अधिकारी यहां की पाइप लाइन सुधारने की सुध नहीं ले रहे हैं।

अन्य खबर

चर्चित खबरें