< शराब पीकर नाच रहे बाराती ने चलाई गोली, सात ग्रामीण घायल Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जिला मुख्यालय के निकटवर्ती गढ़ीमलहरा थाना क्षेत्र के ग्राम करौल"/>

शराब पीकर नाच रहे बाराती ने चलाई गोली, सात ग्रामीण घायल

जिला मुख्यालय के निकटवर्ती गढ़ीमलहरा थाना क्षेत्र के ग्राम करौला में एक शादी समारोह के दौरान बाराती ने शराब के नशे में कट्टे से फायर कर दिया। गोली एक पत्थर में लगने के कारण आसपास खड़े छह बाराती और एक घराती घायल हो गया। घायलों का जिला अस्पताल में उपचार कि या जा रहा है। पुलिस अभी तक गोली चलाने वाले आरोपित बाराती को तलाश नहीं पाई है।प्राप्त जानकारी के अनुसार गढ़ीमलहरा थाना क्षेत्र के ग्राम करौला में 23 अप्रैल की रात बृजलाल पाल की बेटी की शादी थी। बारात चंदला थाना क्षेत्र के ग्राम बघारी से आई तो लड़की के घर वाले आवभगत में लग गए, जबकि बाराती भी दुल्हन के घर तक बारात लेकर जाने के लिए तैयार हो गए। जहां बारात को ठहराया हुआ था, उसके सामने बैंडबाजा बज रहा था।

जब दूल्हा तैयार हो गया और बारात ने गांव में भ्रमण कि या तो रात करीब ढ़ाई बजे एक बाराती ने शराब के नशे में अन्य बारातियों के साथ थिरकते हुए कट्टे को लोड कि या और उसे आसमान की ओर फायर करने के बजाए जमीन में चला दिया। जमीन में कोई बड़ा पत्थर होने के कारण गोली के छर्रे पत्थर के साथ छितर गए जिससे बारात में नाच रहे हरदयाल राय, विनोद राय, जीतेश गुप्ता, भागेंद्र, परमलाल, राके श चढ़ार, सुम्मू राजपूत घायल हो गए। बारात में जब युवक थिरके रहे थे तो ग्राम करौला का संदीप यादव भी डांस देख रहा था, उसे भी छर्‌रे जा लगे।

बारात में गाली चलने और आठ लोग घायल हो जाने की सूचना मिलते ही गढ़ीमलहरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को जिला अस्पताल लाया गया। पुलिस के अनुसार आठों लोगों का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है, इनमें एक युवक गंभीर है। इस घटना के बाद पुलिस अभी आरोपित को तलाश नहीं पाई है।पुलिस टीम आरोपित की तलाश कर रही है, उसे जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। घायलों को जिला अस्पताल में उपचार दिया जा रहा है।लोकसभा चुनाव के लिए आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी। सभी लाइसेंसी हथियारों को विभिन्न थानों में जमा करा दिया गया है, लेकि न अभी भी जिले में लोग अवैध हथियारों का खुलकर इस्तेमाल कर रहे हैं। ग्राम करौला के शादी समारोह में हर्ष फायर की घटना इस बात का सबूत पेश करती है। सवाल यह है कि आचार संहिता और चुनाव के दौरान लोगों द्वारा अपने लाइसेंसी हथियार थानों में क्या जमा नहीं कराये गए हैं। मध्यप्रदेश के साथ ही छतरपुर जिले में आगामी 6 मई को मतदान होने जा रहा है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें