< छत पर सो रहे बच्चों के बीच फटा गोला, मासूम की हुई मौत Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News थाना क्षेत्र के अंतर्गत बम्होरी चौकी से लगभग 3 किमी दूर स्थित ग्"/>

छत पर सो रहे बच्चों के बीच फटा गोला, मासूम की हुई मौत

थाना क्षेत्र के अंतर्गत बम्होरी चौकी से लगभग 3 किमी दूर स्थित ग्राम बूढ़ीश्यामर में  तड़के छत पर सो रहे दो मासूमों के बीच आकर एक गोला फट जाने से एक बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई है। वहीं गंभीर रूप से झुलसे दूसरे बच्चे को सागर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह हादसा गांव में आई एक बारात में की जा रही आतिशबाजी के दौरान हुआ है।जानकारी के दौरान बम्होरी चौकी के अंतर्गत ग्राम बूढ़ीश्यामर में सोमवार को कंछेदी अहिरवार के यहां एक वैवाहिक कार्यक्रम था। दरमियानी रात करीब 3 बजे कंछेदी के यहां बारात आई। बारात में जमकर आतिशबाजी भी की जा रही थी। कंछेदी के घर में बगल वाले घर की छत पर पुष्पेंद्र लोधी के बच्चे आदर्श लोधी उम्र 3 वर्ष और आकाश लोधी उम्र 10 वर्ष गहरी नींद में सोए हुए थे। आतिशबाज के दौरान जैसे ही एक गोला दागा, वैसे ही यह गोला आसमान की ओर जाने की बजाय पुष्पेन्द्र लोधी के घर की छत पर जा गिरा। एक ही पल में छत पर गिरे गोले में जोरदार धमाका हो गया। इसकी चपेट में पुष्पेन्द्र के दोनों मासूम बच्चे आ गए। नीचे बिछे कपड़ों और बच्चों के बदन में आग लगने से वे दोनों बुरी तरह से झुलस गए। आनन-फानन में परिवार के लोगों ने आग को बुझाया और बच्चों की नाजुक हालत को देखते हुए उन्हें एक वाहन से लेकर सीधे सागर के लिए रवाना हो गए। वहां डाक्टर ने 3 साल के आदर्श लोधी को मृत घोषित कर दिया, जबकि 10 साल के आकाश लोधी सिर व कान में गंभीर रूप से झुलसे होने से उसे अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। मृत बच्चे के शव का सागर में ही पोस्टमार्टम कराया गया है।ग्राम बूढ़ीश्यामर में इस दर्दनाक हादसे से गांव में विवाह कार्यक्रम की सारी खुशियां एक ही पल में मातम बदल गई। इस हादसे से पूरा परिवार सदमे में है। बच्चों की मां का रो-रोकर बुरा हाल है। वह रोते-रोते बेहोश हो जाती है और अपने बच्चों के नाम लेकर एकदम से खामोशी में दूर ताकती रहती है कि शायद कहीं से उसके बच्चे आकर उससे लिपट जाएं। पड़ोसी अहिरवार परिवार के लोगों की आंखें भी नम हैं और पूरे गांव में एक तरह से मातम का माहौल बना है।इस घटना के संबंध में परिजनों द्वारा रात के समय पुलिस को कोई सूचना नहीं दी गई है। परिजनों द्वारा सुबह इस घटना के बारे में बताया गया है। जिसके बाद मर्ग कायम किया गया है। सागर से केस डायरी आने के बाद इस मामले की जांच की जाएगी।

अन्य खबर

चर्चित खबरें