मुख्यमंत्री जी राम भरोसे है, झांसी राजकीय संग्रहालय की सुरक्षा व्यवस्था

ऐतिहासिक दुर्ग के समीप बने राजकीय संग्रहालय को लगता है किसी बड़े हादसे का इंतजार है। यानि यहां की सुरक्षा व्यवस्था इस समय राम भरोसे चल रही है। करोड़ों की प्राचीन प्रतिमाओं की निगरानी के लिए लगाये गये सीसी टीवी कैमरे खराब पड़े हैं। परन्तु उस पर कोई अधिकारी ध्यान नहीं दे रहा है।
 
बुंदेलखंड में एक मात्र राजकीय संग्रहालय है जहां पर अति प्रचीन प्रतिमाएं, 05वीं सदी से लेकर 16 वी सदी तक के दुर्लभ मूर्तियां व सिक्के, हथियार, महारानी लक्ष्मीबाई के जीवन चक्र की तस्वीरें सुरक्षित हैं। यहां पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में भारतीय व विदेशी पर्यटक आकर संग्रहालय को देखते हैं। परन्तु अफसोस इस बाद का है कि यहां पर सुरक्षा के दृष्टिकोण से लगाये गये कुल तीन दर्जन सीसीटीवी कैमरों में से गिनती के ही केवल चार कैमरें ही चल रहे हैं। जबकि अन्य सभी कैमरे खराब पड़े हैं। इन कैमरों को काफी समय हो गया पर उसकी मरम्मत तक नहीं कराई गई है।
 
वहीं, यहां पर संग्रहालय निदेशक एके पांडेय के सेवानिवृत्त हो जाने के बाद अभी तक कोई अधिकारी नहीं आया है। पुरातत्व अधिकारी को यहां का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। उनके पास वित्तीय अधिकार काफी सीमित है यहीं कारण है कि यहां की व्यवस्था ठीक नहीं हो पा रही है। दूसरी ओर संग्रहालय में कोई गाइड भी तैनात नहीं


चर्चित खबरें