?> जूनियर डॉक्टरों की गुण्डई, मेडिकल कालेज के CMS को धमकाया, घबराकर दिया इस्तीफा बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़

जूनियर डॉक्टरों की गुण्डई, मेडिकल कालेज के CMS को धमकाया, घबराकर दिया इस्तीफा

मेडिकल कालेज में जूनियर डॉक्टरों की गुण्डई थमने का नाम नहीं ले रही है। अभी तक जुनियर डॉक्टर मरीज और उनके तीमारदारों के साथ मारपीट करते थे। लेकिन अब हद हो गई। वे कर्मचारी और अधिकारियों के साथ भी मारपीट करने लगे हैं। इसका उदाहरण उस समय नजर आया जब पिछले दिनों मेडिकल कालेज में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी के साथ मारपीट की। इसके बाद उन्होंने सीएमएस के बंगले पर पहुंचकर जान से मारने की धमकी दी। जूनियर डॉक्टरों की इस गुण्डई से परेशान होकर सीएमएस ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है।
 
मेडिकल कालेज में हरिश्चंद्रा सीएमएस के पद पर काम करते है। उन्होंने दूरभाष पर जानकारी देते हुये बताया कि 19/20 की रात्रि में तकरीबन एक दर्जन से अधिक जूनियर डॉक्टर उनके बंगले पर पहुंचे। जहां उन्होंने दरवाजा खटखटाते हुये खोलने के लिये कहा। जब उन्होंने दरवाजा नहीं खोला तो जान से मारने की धमकी दी। यदि वह दरवाजा खोल देते तो जूनियर डॉक्टर उन्हें मार देते। इसलिए उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। इसकी जानकारी कालेज प्रशासन को दी गई। यह पूरी वारदात वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद है।
 
सीएमएस हरिशचन्द्र का कहना है कि बंगले पर पहुंचे जूनियर डॉक्टरों ने धमकाते हुये कहा कि चतुर्थ श्रेणी की पिटाई मामले में उन्होंने थाने पहुंचकर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। यह अच्छा नहीं किया, अब हमारे साथ थाने चलो और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के खिलाफ शिकायत करें। इस पर उन्होंने जब मना किया तो जूनियर डॉक्टरों ने उन्हें धमकाना शुरु कर दिया।
 
जूनियर डॉक्टरों की गुण्डई से परेशान होकर उन्होंने नौकरी से इस्तीफा दे दिया और कालेज प्रशासन समेत उच्चाधिकारिया को अवगत करा दिया है।


चर्चित खबरें