?> आर एस एस केम्प में हुई युवक की मौत पर बबाल - परिजनों का हंगामा बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ दमोह  में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक शिविर क"/>

आर एस एस केम्प में हुई युवक की मौत पर बबाल - परिजनों का हंगामा

दमोह  में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक शिविर के दौरान एक युवक की नदी में डूबने से हुई मौत पर बबाल खड़ा हो गया है । गुस्साए परिजनों ने दमोह छतरपुर स्टेट हाइवे पर चक्का जाम करके विरोध जाहिर किया तो संघ के प्रचारक के खिलाफ आपराधिक मामला कायम करने की मांग की । दरअसल जिले के तेजगढ़ में आर एस एस का शिविर चल रहा है जिसमे शामिल होने जिले के ढिकसर गावं का दसवीं कक्षा का विद्यार्थी लोकेश पटेल बीते 18  को गया हुआ था  19  तारीख की शाम लोकेश शिविर से गायब था ।

जिसकी सूचना केम्प के संचालकों ने तेजगढ़ पुलिस को दी लेकिन लोकेश के घर वालों को कोई इत्तला नहीं दी , देर रात जब तलाशी की गई तो लोकेश का शव पास की नदी में मिला इस बात से नाराज मृतक के परिजनों का गुस्सा फुट पड़ा ,दमोह में शव का पी एम् कराने के बाद बड़ी तादात में लोगों ने स्टेट हाइवे को जाम कर दिया  घंटे भर तक लाश को रख कर चले जाम के बाद इलाके के भाजपा विधायक लखन पटेल आला अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और समझाइश के बाद जाम खत्म हो गया  वहीँ दूसरी तरफ मृतक के परिजन इसे ह्त्या का मामला बता रहे है वहीँ उनका आरोप है की संघ के स्वयंसेवकों और प्रचारक ने ना सिर्फ उनसे उनके लड़के के गुम होने की बात छिपाई बल्कि जब उन्होंने केम्प में जाकर पता किया तो उनके साथ भी बदलूकी की गई , फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है

मृतक लोकेश के गाँव में मातम सा छा गया है वही परिजन इस बात से खफा है की संगठन के लोगों ने एक तो काफी समय तक कोई सूचना नहीं दी और जब उनसे जानकारी चाही तो उलटा मारपीट कर बदसुलूकी की है । मामला यहीं शांत नहीं हुआ बल्कि जब इसकी शिकायत तेजगढ़ थाना में करने पहुचे तो वहाँ भी संघ प्रचारक दिपत तिवारी ने पुलिस के सामने भी परिजन से हाथापाई की ।

आखिरकार नाराज परिजन ने तेजगढ़ में चल रहे आर एस एस संगठन केम्प प्रबंधक दीपक तिवारी पर गंभीर आरोप लगते हुए  उसपर कारवाही की मांग की है और शव को अपने गाँव लेजाकर स्टेट हाइवे पर रखकर जाम लगा दिया सुचना पाते ही  पुलिस प्रशासन और स्थानीय विधायक मौके पर पहुचे और समझाइस देकर कारवाही का भरोसा दिलाया तब जाकर जाम खुल पाया ।