?> सरकारी स्कूलों में निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तकों का वितरण बुन्देलखण्ड का No.1 न्यूज़ चैनल । बुन्देलखण्ड न्यूज़ प्रदेश में सर्वशिक्षा अभियान में शिक्षा सत्र 2017-18 में "/>

सरकारी स्कूलों में निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तकों का वितरण

प्रदेश में सर्वशिक्षा अभियान में शिक्षा सत्र 2017-18 में कक्षा एक से 8 तक की सरकारी प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तकों का वितरण किया जायेगा। इस संबंध में राज्य शिक्षा केन्द्र ने जिला कलेक्टर्स को निर्देश जारी किये हैं। जिलों में पाठ्य-पुस्तकों का वितरण निश्चित की गई समय सारणी के मुताबिक किये जाने के लिये कहा गया है। निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तकें विकास खण्ड स्तर पर 30 अप्रैल तक पाठ्य-पुस्तक निगमद्वारा प्रदाय की जायेंगी।

विकास खण्ड स्तर पर पुस्तकें प्राप्त होते ही एजुकेशन पोर्टल पर आवंटन की जानकारी की एन्ट्री की जायेगी। शैक्षणिक सत्र 2017-18 के लिये अनुमानित बच्चों के नामांकन की विद्यालय एवं जन-शिक्षा केन्द्रवार सूची एजुकेशन पोर्टल पर उपलब्ध करवायी गई है।

पाठ्य-पुस्तकों के परिवहन के संबंध में भी आवश्यक निर्देश जारी किये गये हैं। मराठी पाठ्य-पुस्तकों के संबंध में महाराष्ट्र राज्य पुस्तक निर्मित व अभ्यासक्रम संशोधन मंडल पुणे को अधिकृत किया गया है। मध्यप्रदेश मरदसा बोर्ड के अन्तर्गत पंजीकृत मदरसों में निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तक पर्यावरण अध्ययन तथा सामाजिक विज्ञान अध्ययन की पुस्तकें उर्दू माध्यम में, हिन्दी, गणित और विज्ञान की पुस्तकें हिन्दी माध्यम में और अंग्रेजी की पुस्तकें वितरित की जायेंगी।

पाठ्य-पुस्तक निगम द्वारा मुद्रित पुस्तकों में से 90 प्रतिशत पुस्तकें सीधे शालाओं को दी जायेगी तथा 10 प्रतिशत पुस्तकें विकास खण्ड स्तर पर स्टॉक में रखी जायेंगी। पाठ्य-पुस्तकों का वितरण शाला प्रबंध समिति द्वारा प्रवेश उत्सव समारोह में सांसद, विधायक, पंचायत एवं स्थानीय निकाय के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में करने के लिये कहा गया है। शिक्षण सत्र 2016-17 में कक्षा 1 से 8 तक 75 लाख 60 हजार छात्रों को निरूशुल्क पाठ्य-पुस्तकें उपलब्ध करवायी गयी थीं।


चर्चित खबरें