< यातायात नियमों का पालन कर अपना जीवन सुरक्षित रखें Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News वर्तमान समय में सबसे अधिक मौतें सड़क दुघर्टनाओं से होती है

यातायात नियमों का पालन कर अपना जीवन सुरक्षित रखें

वर्तमान समय में सबसे अधिक मौतें सड़क दुघर्टनाओं से होती है

आज के आधुनिक युग में जिस प्रकार से वाहन बढ़ रहे है। तथा लोगों द्वारा समय से पहले आगे जाने की होड़ मची है। लेकिन आदमी अपने जीवन को सुरक्षित रखने की ओर ध्यान नहीं दे रहा है। जबकि वर्तमान समय में सबसे अधिक मौतों का आकंड़ा सड़क दुघर्टनाओं से बढ़ रहा है। इसलिए लोगों को अपने जीवन को सुरक्षित रखने हेतु यातायात नियमों का पालन करना अति आवश्यक है। दो पहिया वाहन चालक हेलमेट का उपयोग हर हाल में करें। तथा चार पहिया वाहन चालक सील्टबेल्ट का उपयोग करें। इसके साथ ही धीमी गति से वाहन चलायें, इतनी सावधानी से ही बहुत सारी दुघर्टनायेँ रोकी जा सकती है।

उक्ताशय के विचार पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने 30वें यातायात सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर पुलिस लाइ्र्रन यातायात थाना में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। कार्यक्रम का शुभारंभ मा सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण तथा पूजाअर्चना से किया गया। उपस्थित छात्र-छात्राओं द्वारा सरस्वती बंदना की गई। तत्पश्चात यातायात प्रभारी सुश्री ज्योति दुबे द्वारा उपस्थित अतिथियों के लिए स्वागत भाषण दिया गया तथा एक सप्ताह चले सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान आयोजित कार्यक्रमों की जानकारी दी गई।

सप्ताह के दौरान विभिन्न विद्यालयों में छात्र-छात्राओं को यातायात नियमों से अवगत कराया गया। निबंध प्रतियोगितायें आयोजित की गइ्र्र। नुक्कड़ नाटक, प्रतीक चिन्हों के द्वारा यातायात नियमों की जानकारियां दी गई तथा यमराज के रूप में नुक्कड़ नाटक आयोजित कर लोगों को यातायात नियम का पालन करना बताया गया। कार्यक्रम में उक्त लोगों को भी बुलाया गया था जिनके परिजन सड़क दुघर्टनाओं में कालकवलित हुए तथा उसके बाद उनके परिवार किस प्रकार से संघर्ष कर रहे है।

जिनमें मोती लाल कोरी, यशोदा यादव, बिट्टू चैबे, इसरार खान द्वारा अपनी जुमानी अपनी परेशानी से लोगों को अवगत कराया गया। कार्यक्रम के दौरान नुक्कड़ नाटक के द्वारा यातायात नियम संबंधित रोचक जानकारियां दी गई। कार्यक्रम में एसडीओपी अजयगढ़ इसरार मंसूरी, पर्यवेक्षाधीन एसडीओपी उमेश प्रजापति, एसडीओपी पन्ना उमराव सिंह, टीआई कोतवाली अरविन्द कुजूर सहित भारी संख्या में विभिन्न विद्यालयांे के शिक्षक-छा़त्र-छात्रायें, पत्रकार तथा नागरिक उपस्थित रहे। 
 

About the Reporter

  • ,

अन्य खबर

चर्चित खबरें