< भानेज के घर से लौट रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News अपने नंदोई के घर भानेज को पेड़ा खिलाकर लौट रही एक महिला और उसकी एक "/>

भानेज के घर से लौट रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत

अपने नंदोई के घर भानेज को पेड़ा खिलाकर लौट रही एक महिला और उसकी एक वर्षीय बेटी को यात्री बस ने रौंद दिया। महिला अपनी बेटी के साथ नंदोई की बाइक से घर लौट रही थी। गांव आने के पहले संकरे रास्ते पर बाइक को बस ने टक्कर मार दी। टक्कर मारने के बाद मां-बेटी सड़क पर गिर पड़े। इस बीच बस ने दोनों को रौंद दिया, जिससे दोनों की मौत हो गई। पुलिस ने यात्री बस को जब्त कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत बछौन की महिला सुनीता पत्नी राजू अहिरवार अपनी एक वर्षीय मासूम बेटी रोशनी के साथ नंदोई के घर में भानेज को पेड़ा खिलाने के लिए चंदला क्षेत्र के ग्राम लबराहा गई थी। उसने ग्राम लबराहा में इस रश्म को पूरा कि या और जब गांव लौटने लगी तो नंदोई ने उसे बाइक से गांव बछौन छोड़ने के लिए कहा।

नंदोई की बात पर वह तैयार हो गई और गुरुवार शाम करीब सात बजे वह अपने गांव बछौन से कुछ ही दूरी पर स्थित पंचमनगर तिराहा पर पहुंची। यहां रास्ता बेहद तंग था और पीछे से यात्री बस आ रही थी। लिहाजा नंदोई ने अपनी बाइक को एक कि नारे रोक लिया।

तेज रफ्तार आ रही बस के चालक ने संकीर्ण मोड़ पर बाइक को नहीं देखा और मोड़ते हुए बाइक में टक्कर मार दी। इस हादसे में बाइक पर पीछे बैठी महिला सुनीता और उसकी मासूम बेटी रोशनी कु चल गई और मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। इस हादसे के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बस को जब्त किया और शुक्रवार की सुबह चंदला अस्पताल में मां-बेटी के शवों का पोस्टमार्टम कराया।

 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें