बुन्देलखण्ड में पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु सरकार आयोजित करेगी बुन्देलखण्ड महोत्सव: रीता बहुगुणा जोशी

इलाहाबाद के टूरिष्ट बंग्लो में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण एंव पर्यटन मंत्री (उ.प्र. सरकार) श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी जी ने आने वाले समय में अपने विभाग सहित सरकार के कार्यों में कैसे तेजी लाई जाएगी इस विषय पर अपनी बात रखी । प्रेस वार्ता के बाद उनसे हमारे (बुन्देलखण्ड न्यूज & बुन्देलखण्ड कनेक्ट) विशेष संवाददाता अनुज हनुमत ने कुछ खास प्रश्न किये : - 
 
बुन्देलखण्ड में पर्यटन के लिए क्या कुछ खास करने  वाली है आपकी सरकार ?
सबसे पहले मैं आपको बता दूं कि हमारी सरकार बुन्देलखण्ड के विकास के लिए खासतौर पर कार्ययोजना का निर्माण कर रही है । सर्वप्रथम हम फैजाबाद से चित्रकूट (वनगमन मार्ग) तक के हाइवे का निर्माण जल्द से जल्द पूरा कराएँगे । इसे हमारी सरकार ने स्वीकृति प्रदान कर दी है । ये पूरी योजना 70 करोड़ रूपये की है । हमारा प्रमुख लक्ष्य धार्मिक पर्यटन के साथ साथ ऐतिहासिक पर्यटन को भी बढ़ावा देना होगा । बुन्देलखण्ड का इतिहास बहुत पुराना है और हम जल्द ही बुन्देलखण्ड महोत्सव की शुरुआत करने वाले हैं । यहाँ कई ऐसे दर्शनीय स्थल और विश्व प्रसिद्ध स्थान हैं । चाहे मंदिर हो ,भारतीय शौर्य का गवाह किले हों या झरने हों । सभी बुन्देलखण्ड की रौनकता को बढाते हैं । 
 
बुन्देलखण्ड में कर्ज और भुखमरी के चलते लगातार किसान पलायन कर रहे हैं । आपको क्या लगता है कि यहाँ के पर्यटन का विकास करके हम यहाँ विकास की गंगा बहा सकते हैं ?
मैं फिर से बता दूं कि हम बुन्देलखण्ड के विकास के लिए संकल्पित हैं और जल्दी ही आपको इसके परिणाम धरातल पर दिखाई देंगे । हम केंद्र सरकार से मिलकर पूरे सूबे के पर्यटन को बहुत आगे तक ले जायेंगे । जी हां अगर बुन्देलखण्ड में वास्तव में विकास की अविरल गंगा बहानी है तो हमे इस पूरे स्थान को पर्यटन से जोड़ना होगा । 
 
बुन्देलखण्ड में पर्यटन के विशेष केंद्रों (चित्रकूट ,कालिंजर दुर्ग और सरहट स्थित पुरापाषाणकालीन मानव सभ्यता के अवशेष) की बदहाल व्यवस्था कब सुधरेगी?
मैं आपको फिर बता दूं कि पर्यटन का विकास ही हमारी प्रमुख प्राथमिकता में है । बुन्देलखण्ड के जिन दर्शनीय स्थलों की आप बात कर रहे हैं उसे संज्ञान में लिया जायेगा और जल्द ही आपको बदलाव दिखेगा । असल में सच्चाई तो ये है कि अभी तक पिछली सरकारों में इन स्थानों को सहेजने और सरंक्षित करने का कोई ठोस कदम नही उठाया था । लेकिन हम जमकर कार्य करेंगे ।
 
कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि हम अपने तमाम विभागों में नवीन प्रयोग करने जा रहे हैं । प्रतिदिन हम विभागों का औचक निरीक्षण करेंगे । भ्रस्टाचार को रोकना हमारे सरकार की पहली प्राथमिकता है । रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों में हम अपने कार्यों को लेकर जनता के बीच जायेंगे ।


चर्चित खबरें