< गोशाला निर्माण अधूरा, बना अन्ना मवेशियों का डेरा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News नगर पंचायत में नव निर्माणाधीन गोशाला में अस्थायी रूप से गायों क"/>

गोशाला निर्माण अधूरा, बना अन्ना मवेशियों का डेरा

नगर पंचायत में नव निर्माणाधीन गोशाला में अस्थायी रूप से गायों को ठहराने की शुरुआत कर दी गई है। जिससे किसानों को काफी राहत मिलने की आस जगी है।

वर्ष 2017-18 में नगर पंचायत रामपुरा में गोशाला के निर्माण की स्वीकृति मिली थी तथा इस वर्ष सवा तीन करोड़ की धनराशि की स्वीकृति भी मिल गई। जिसके तहत निर्माण भी शुरू करवा दिया गया। अभी निर्माण चल रहा है लेकिन किसानों को आवारा पशुओं से काफी नुकसान हो रहा था। जिसे देखते हुए चेयरमैन शैलेंद्र ¨सह द्वारा रविवार से ही अस्थायी तौर पर गोशाला में छुट्टा जानवरों को ठहरने की व्यवस्था शुरू कर दी गई है। जिससे किसानों को कुछ तो राहत मिलेगी। वहीं क्षेत्रवासियों ने चेयरमैन की इस पहल को सकारात्मक बताया है।

दाना, पानी और भूसा की हुई व्यवस्था

चेयरमैन शैलेंद्र ¨सह ने बताया कि अभी शासन द्वारा कोई धनराशि इस मकसद से नहीं मिली है। गायों को भूसा व दाना दिया जा सके लेकिन उन्होंने नगर पंचायत की ओर से भूसा, दाना और पानी की व्यवस्था कर दी है ताकि कोई जानवर भूखा न रह सके।

250 से 300 गायों को रखने का इंतजाम

अभी गोशाला का काम निर्माणाधीन है। ऐसे में यहां पर ज्यादा पशुओं को नहीं रखा जा सकता है। फिर भी किसानों की समस्या को देखते हुए अभी 250 से 300 तक गायों के रुकने की व्यवस्था की गई है। धीरे-धीरे इसकी संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी। नगर पंचायत अध्यक्ष ने किसानों से आग्रह किया कि पालतू जानवरों को आवारा न छोड़ें। यदि किसी के भी द्वारा पालतू जानवर को छुट्टा छोड़ा गया तो वह गोशाला में आ जाएगा। उन्होंने बताया कि किसानों द्वारा जब तक गेहूं की फसल की बोआई की जाएगी तथा फसल बड़ी हो जाएगी तब तक फसल की सुरक्षा को देखते हुए आवारा पशुओं के ठहराव की संख्या में और बढोतरी की जाएगी।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें