< मुक्तिधाम से कौन चुरा ले गया ट्री गार्ड? Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News चोर जब चोरी करने निकलता है तो वो चाहे भगवान का मंदिर हो या इंसान क"/>

मुक्तिधाम से कौन चुरा ले गया ट्री गार्ड?

चोर जब चोरी करने निकलता है तो वो चाहे भगवान का मंदिर हो या इंसान का घर, चोरी करने से नही चूकता है। लेकिन आज के युग में सफेदपोश नेता समाज सेवा का चोला पहनकर न सिर्फ गरीबों का निवाला छीनने की कोशिश करने बल्कि मौका मिलने पर मुर्दो का सामान भी चोरी करने से परहेज नही करते है। ऐसा ही एक मामला हरदौली घाट मुक्तिधाम का है। जहां के ट्रीगार्ड चोरी कर लिये गये। जब इस मामले से सम्बंधित आडियो वायरल हुआ तो देखते ही देखते मुक्तिधाम से गायब हुये ट्री गार्ड वापस पहुंच गये।

आडियो वायरल     

यह अजीबोगरीब मामला उस समय उजागर हुआ जब नगर पालिका अध्यक्ष मोहन साहू ने मुक्तिधाम से चोरी हुये ट्री गार्ड के बारे में लोडर के ड्राइवर से मोबाइल पर बातचीत की। यह आडियो  वायरल होते ही शहर में खलबली मच गई, आनन फानन में चोरी हुये ट्री गार्ड ई-रिक्शा में लादकर वापस शमसान घाट  भेजे  गये। 

माली ने अध्यक्ष को पत्र लिखा

इस बीच मुक्तिधाम में काम करने वाले नगर पालिका के आउट सोर्सिंग कर्मचारी राकेश कुमार पुत्र जगमोहन साहू ने  मुक्तिधाम के अध्यक्ष को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि सोमवार को सबेरे लगभग 6.56 बजे दो व्यक्ति मुक्तिधाम पहुंचे और जबर्दस्ती फाटक खोलने को कहा, मैने फाटक खोल दिया तो वह लोडर लेकर अंदर आ गये और ट्रीगार्ड गाड़ी में लादने लगे।

मैैने उन्हे रोका कि यह किसके आदेश पर लिये जा रहे हो ? वह बोले विधायक जी के आदेश से। इसके बाद संतोष गुप्ता का फोन मेरे पास आया उन्होने कहा कि विधायक जी ने ट्रीगार्ड मंगवाया है। कुछ ही देर में वहा नगर पालिका सदस्य रामबाबू निषाद भी आ गये। उन्होने जब इस सम्बंध में विधायक जी से बातचीत की तो उन्होने कहा कि मैने कोई ट्री गार्ड नही मंगवाये।

पदाधिकारी मुक्तिधाम पहुंचे

इधर मुक्तिधाम के कोषाध्यक्ष मनोज  जैन ने बताया  कि मै और मुक्तिधाम के अध्यक्ष अमित सेठ भोलूपूर्व अध्यक्ष शकील अली सूचना पाकर मुक्तिधाम पहुंचे तो वहां से ट्रीगार्ड गायब होने  का मामला उजागर हुआ। उन्होने कहा कि मुझे बड़ा अफसोस है कि लोग सोशल वर्कर का काम करने का स्वांग करते है। उनकी मंशा क्या है ?

आज ट्री गार्ड गायब होने व वापस आने से स्पष्ट हो गई। श्री जैन ने बताया कि यह ट्री गार्ड अलीगंज में वृन्दावन गार्डन में लगाये गये थे। मुक्तिधाम से कुल 12 ट्री गार्ड गये थे, इनमें से 7 वापस आ गये है। कोषाध्यक्ष ने आरोप लगाया कि मुक्तिधाम के सचिव संतोष कुमार गुप्ता ने मुक्तिधाम का सामान अपने घर में लगवाया है। अगर जांच की जाये तो समाजसेवी का असली चेहरा उजागर हो सकता है। 

अध्यक्ष ने क्या कहा?

इस सम्बंध में पूछे जाने पर मुक्तिधाम के अध्यक्ष अमित सेठ भोलू ने बताया कि मेरे पास सबेरे 6.30 बजे सभासद बाबूराम निषाद का फोन आया था। वह रोज सबेरे मुक्तिधाम मार्निग वाक को जाते है। उन्होने बताया कि एक पिकअप गाड़ी आई है, जिसमें ट्रीगार्ड लद रहे है। अध्यक्ष ने बताया  कि जब मै वहां पहुंचा तब तक गाड़ी जा चुकी थी, लेकिन चोरी हुये ट्रीगार्डो की असलियत उजागर हो चुकी थी।

संतोष गुप्ता ने दी सफाई

उधर फेसबुक में संतोष गुप्ता ने लिखा है कि ट्रीगार्ड विधायक जी के थे और मुक्तिधाम में बाहर पड़े थे। उन्हे  अंदर  रखवा दिया गया है। कुछ वृक्षारोपण सड़क किनारे विधायक जी को करवाना था पर अंगद पाल भाजपा कार्यकर्ता उन्हे उठा कर ले गया था। उसने  सभासद से विधायक जी की बात कराई थी। इसलिये मै कह रहा हूं कि इसकी  पुष्टि विधायक जी से कर लेनी चाहिये था।

वहीं नगर पालिका के अध्यक्ष मोहन साहू ने बताया कि मुक्तिधाम के माली द्वारा फोन से सूचना मिलने पर मुक्ति धाम के पदाधिकारियों के साथ मै भी  मौके पर गया था। उन्होने बताया कि यह ट्री गार्ड संतोष गुप्ता के कर्मचारी अंगद और नगर पालिका का चुनाव लड़ चुके शिवपूजन गुप्ता का ड्राइवर लाला वृन्दावन गार्ड ले गये थे। यह ट्री गार्ड यहां से क्यों चुराये गये इसकी जांच होना चाहिये।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें