< आचार्य श्री के नगर आगमन की भावना से,हो रहे मंदिरों में जाप,पाठ और अनुष्ठान Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News भव्यता के साथ होगा गौशाला में, 24से 30 नवम्बर तक श्री पंचकल"/>

आचार्य श्री के नगर आगमन की भावना से,हो रहे मंदिरों में जाप,पाठ और अनुष्ठान

भव्यता के साथ होगा गौशाला में, 24से 30 नवम्बर तक श्री पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव

ललितपुर। नगर ललितपुर की मसौरा रोड स्थित श्रीदयोदय पशु संरक्षण केन्द्र गौशाला में होने वाले श्री पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव समारोह की तैयारियां जोरों पर हैं। यह कार्यक्रम 24 से 30 नवंबर तक आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के मंगल आशीर्वाद से सुनिश्चित है जिसमें ब्र.भैया विनय जी का निर्देशन मिल रहा है। तैयारियों का जायजा विगत दिनों विनय भैया जी ने लिया था और दिशानिर्देश कमेटी को दिए थे। जिसके चलते गौशाला में तैयारियां जोरों पर है प्रगति पर है और श्री पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव समिति बनाई बनाई जा चुकी है और उस समितियां भी बन गई हैं।

नगर की समस्त स्वयंसेवी संगठनों से सहयोग की भावना की जा रही है और उनसे संपर्क कमेटी द्वारा बनाया जा रहा है। किसी तरह की कोई कमी इस महोत्सव में ना रहे इस पर ध्यान दिया जा रहा है और सभी अनुभवों से जानकारों से पूरी तरह से सहयोग दिया जा रहा है। समय-समय पर उन्हें बैठकों में बुलाकर उनसे सहयोग की आशा की जा रही है क्योंकि आचार्य श्री विद्यासागर महाराज का ललितपुर नगर आगमन होने की संभावना प्रबल होती जा रही है, जिससे सहयोग देने वालों का क्रम प्रगति पर है तो वहीं इस पंचकल्याणक महोत्सव में पात्रों का भी चयन होना है।

आचार्य श्री का नगर आगमन की बाट सभी जोह रहे हैं क्योंकि सन 87 के उपरांत आचार्य श्री का ललितपुर आगमन नहीं हुआ है। क्योंकि उनके अनेक सत्संग सरसों का ललितपुर आगमन हो चुका है चतुर्मास मिल चुके हैं बचना मिल चुकी है और उनकी महत्व धर्म प्रभावना से उनके गुरु की दर्शनों की लालसा ललितपुर वासियों को है विगत दिनों एक विशाल पदयात्रा ललितपुर से पपौरा जी निकालकर गुरु चरणों में निवेदन भक्ति पूर्वक किया था तो उस भक्ति यात्रा में राजनेता समाजसेवी गुडडू राजा ने भी रथयात्रा के माध्यम से आचार्यश्री को ललितपुर आगमन के लिए श्रीफल भेंट किया था अभी वर्तमान में आचार्य श्री जैन अतिशय क्षेत्र खजुराहो जी में चौमासा कर रहे हैं जिसका निस्तापन दीपावली महोत्सव के समय होगा उसके उपरांत उनका मंगल विहार ललितपुर की ओर हो।

इस भावना कामना को लेकर नगर के सभी मंदिरों में पूजा-पाठ जाप अनुष्ठान चल रहे हैं सभी भक्त लोग समय-समय पर विधान धार्मिक अनुष्ठान शांतिधारा और जवाब देकर उनके आगमन की भावना खा रहे हैं। इधर रवि चुनगी पत्रकार ने बताया कि आचार्य श्री के मंगल आगमन को लेकर छत्रसालपूरा मुल्लाजी की गली में स्थित सद्भावना चबूतरे पर सभी श्रद्धालु प्रतिदिन रात्रि 8.00 बजे से 10.00 बजे तक श्री भक्तामर जी का पाठ श्री णमोकार पाठ मंत्र का पाठ कर रहे हैं जिसमें मोहल्ले वासियों का भरपूर सहयोग मिल रहा है और नित प्रति दिन श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ रही है।

आचार्य श्री विद्यासागर के जन्म महोत्सव शरद पूर्णिमा 24 अक्टूबर से शुरू हुआ था जो अनवरत 24 नवंबर तक चलेगा। कार्यक्रम में नगर के सभी श्रद्धालु बढ़-चढक़र सहयोग दें ऐसी भावना मोहल्ले वालों ने सभी से की है। इसी क्रम में शनिवार दिवस पर विशेष पूजा अनुष्ठान को लेकर श्री जैन मंदिर जिला इलाईटक्षेत्र में श्रीसमाधी सागर सेवा मंडल व भक्त गणों ने शांति धारा की और भगवान मुनीसुव्रत नाथ जी का विधान किया और आचार्य श्री के मंगल नगर आगमन की भावना से जाप अनुष्ठान भी किया इस तरह आचार्य श्री के ललितपुर आगमन की भावना को लेकर अनेक कार्यक्रम संचालित है क्योंकि आचार्य श्री का ससंध ललितपुर आगमन एक हौसला स्वंय ऊर्जा का संचार करेगा तो वहीं अनेक योजनाओं का संचालन भी होने की संभावना है।

उन्होंने आगे बताया गौशाला में होने वाले श्री पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव की तैयारियों को लेकर रोज रात्रि 8.00 बजे से श्री जैन अटा मंदिर जी में श्री जैन समाज, गौशाला कमेटी तथा  स्वंय सेवी संगठनों की बैठक हो रही है जहां पर एक दूसरे के सुझाव और सहयोग लेने के लिए संवाद आदान-प्रदान हो रहे हैं अत: सभी जागरूक लोग उक्त बैठक में जरूर पहुंचे और अपने महत्वपूर्ण सुझाव देकर उक्त कार्यक्रम को सफल बनाने में सहभागी बने।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें