< पवई से बृजेन्द्र गुनौर से राजेश वर्मा को मिला टिकिट Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News पन्ना विधानसभा की घोषणा बाकी

भारतीय जनता प"/>

पवई से बृजेन्द्र गुनौर से राजेश वर्मा को मिला टिकिट

पन्ना विधानसभा की घोषणा बाकी

भारतीय जनता पार्टी द्वारा 177 उम्मीदवारो की सूची जारी कर दी है जिसमें पवई विधानसभा से पूर्व मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह को पार्टी द्वारा टिकिट दी गई है तथा गुनौर विधानसभा से पूर्व विधायक राजेश वर्मा को प्रत्याशी बनाया गया है। तथा पन्ना विधानसभा जहां से कैबनेट मंत्री कुसुम महदेले है उक्त सीट के उम्मीदवार की घोषणा अभी शेष है क्योकी पार्टी द्वारा 53 उम्मीदवारो की अभीतक घोषणा नही की है जहां तक पवई विधानसभा का सवाल है वर्ष 2013 में पूर्व मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह काग्रेस पार्टी के विधायक मुकेश नायक से लगभग 11 हजार वोटो से चुनाव हार गये थे। लेकिन पार्टी ने उन पर फिर से भरोसा जताते हुए पार्टी का उम्मीदवार बनाया है वह लगातार पवई विधानसभा से 10 वर्ष तक विधायक एवं मंत्री रहे है तथा क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है इस बार भी लगता है काग्रेस पार्टी फिर से मुकेश नायक को प्रत्याशी बनाएगी जिससे पवई विधानसभा में रोचक मुकाबला देखने को मिलेगा।

उधर पवई क्षेत्र में क्षेत्रीय प्रत्याशी की मांग लगातार की जा रही थी लेकिन दोनो राष्ट्रीय पार्टीयों द्वारा क्षेत्रीय प्रत्याशी की मांग को खारिज करतें हुए अपने जीतने वाले प्रत्याशीयों पर दांव खेला है। आगे देखना है उट किस करवट बैठता है। इसी प्रकार गुनौर विधानसभा क्षेत्र में जीते हुए विधायक महेन्द्र बागरी का टिकिट काटकर पूर्व विधायक राजेश वर्मा को टिकिट दिया गया है अभी काग्रेस पार्टी द्वारा प्रत्याशी घोषित नही किया गया है जिससे स्थिती स्पष्ट नही है जब सभी पार्टीयों द्वारा प्रत्याशी घोषित हो जायेगे तो क्षेत्र की स्थिती का आकलन किया जा सकता है गौरतलब है की बीजेपी 1998 से लगातार इस क्षेत्र में जीतती चली जा रही है।

सिर्फ पार्टी द्वारा हर बार प्रत्याशी बदल कर नया प्रत्याशी उतारा जाता है। पिछले विधानसभा चुनाव में महेन्द्र बागरी ने काग्रेस के शिवदयाल बागरी को 1 हजार 3 सौ मतो से हराया था। रही बात पन्न विधानसभा की अभी तक भाजपा द्वारा इस क्षेत्र से पार्टी का उम्मीदवार घोषित नही किया गया है। कैबनेट मंत्री कुसुम महदेले का विधानसभा क्षेत्र होने के कारण पार्टी द्वारा लगातार मंथन किया जा रहा है की आखिर सुश्री महदेले को ही टिकिट दी जाये या अन्य दावेदारो में से किसी एक का चयन किया जाये ज्ञात हो की सुश्री महदेले लगातार 1990 से भाजपा की प्रत्याशी रही है जिसमें 4 बार विजयी तथा 2 बार पराजय का सामना करना पडा लेकिन इस बार पार्टी द्वारा उनकी बढती उम्र तथा क्षेत्र में कमजोर पकड के चलते अभी तक घोषणा नही की गई है हो सकता है पार्टी द्वारा उनका टिकिट काट कर उनके ही किसी परिजन को टिकिट दिया जा सकता है या फिर अन्य दावेदार पर दॉव पार्टी द्वारा खेला जा सकता है। सुश्री महदेले के अलावा उनके भाई आशुतोष महदेले भी प्रबल दावेदार है इसके अलावा सुधीर अग्रवाल, रामऔतार पाठक, सतानन्द गौतम, रवीराज यादव, महेन्द्र यादव आदि के नाम भी चर्चाओं में है।  

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें