< छात्रा के अपहरण में शिक्षक को सात वर्ष की कैद Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News शासकीय अधिवक्ता प्रमोद कुमार पालीवाल ने बताया कि महोबा निवासी 15"/>

छात्रा के अपहरण में शिक्षक को सात वर्ष की कैद

शासकीय अधिवक्ता प्रमोद कुमार पालीवाल ने बताया कि महोबा निवासी 15 वर्षीय छात्रा बारीगढ़ मप्र के एक विद्यालय में पढ़ती थी। जिसे उसका शिक्षक महेश श्रीवास संचालित करता था। 4 अगस्त 2012 को छात्रा अपने छोटे भाई के साथ बारीगढ़ जाने के लिए स्टैंड पर बस का इंतजार कर रही थी। उसका भाई किसी काम से इधर-उधर चला गया। इसी बीच महेश श्रीवास अपने एक नाबालिग साथी के साथ आया और छात्रा से आटो में बैठकर बारीगढ़ चलने को कहा।

शिक्षक होने के नाते छात्रा आटो में बैठ गई। महेश ने उसे समोसा में नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश कर दिया। अगले दिन जब छात्रा को होश आया तो वह दिल्ली में नाबालिग आरोपित के किसी रिश्तेदार के घर पर थी। छात्रा के साथ आरोपित ने पांच दिन तक दुष्कर्म किया। इस बीच महेश वहां से भाग निकला। इसके बाद आरोपित दुष्कर्मी भी भाग गया। किसी तरह छात्रा दिल्ली से महोबा आई और पिता को जानकारी दी। 7 सितंबर 2012 को शहर कोतवाली में दोनों आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया। पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया।

मामले में सुनवाई के बाद बुधवार को एडीजे एफटीसी सुरेंद्र नाथ ने सजा सुनाई। शासकीय अधिवक्ता ने बताया कि महेश श्रीवास निवासी बारीगढ़ मप्र को अपहरण व दुष्कर्म में साथ देने पर सात वर्ष कारावास व 7 हजार जुर्माने की सजा सुनाई गई है। जुर्माना न देने पर उसे पांच माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें