< सफलता के नियम विषय पर प्रश्नोत्तरी परीक्षा संपन्न Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News प्रश्नोत्तरी परीक्षा में सुनीता रहीं प्रथम

सफलता के नियम विषय पर प्रश्नोत्तरी परीक्षा संपन्न

प्रश्नोत्तरी परीक्षा में सुनीता रहीं प्रथम

आईसेक्ट संस्थान पर हुआ वृहद आयोजन

गुरूवार को योगदा सत्संग सोसाईटी ऑफ  इण्डिया के द्वारा दिशा आईसेक्ट संस्थान पर आयोजित सफलता के नियम विषय एवं प्रश्नोत्तरी परीक्षा के सफल छात्र-छात्राओं को मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित योगदा सोसाईटी के जनपद के कारडीनेटर योगाचार्य डा. रमेश किलेदार ने पुरस्कार वितरण किया।

जिसमें सुनीता ने प्रथम, प्रिंसी ने द्वितीय व साक्षी सोनी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर डा. रमेश किलेदार ने छात्रों को सम्बोधित करते हुये कहा कि यदि हम थोड़ा और थोड़ा और की अभिलाषा रखेंगे तो हम कभी आत्मसंतोष नही पा सकेंगे। बुरी आदतों एवं वयस्नों को छोड़े बिना सत्य व मुक्ति की राह नहीं प्राप्त की जा सकती। उन्होनें कहा कि सादा जीवन उच्च विचार को प्रोत्साहित करना तथा मानवजाति के मध्य उनकी एकता के शाश्वत आधार की शिक्षा देकर बन्धुत्व की भावना का प्रचार करने की आवश्यकता पर बल देते हुये कहा कि बुराई पर भलाई से, दुख पर आनन्द से, क्रूरता पर दया से, अज्ञान पर ज्ञान से विजय पाना ही हमारा लक्ष्य होना चाहिये।

विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे कलाविद्ध ओम प्रकाश बिरथरे ने छात्रों को कहा कि समय का एक एक क्षण बहूमूल्य है इसकी बर्बादी रोक कर ही हम सफलता की कहानी गढ़ सकते है। लक्ष्य के प्रति केन्द्रित हो कर लक्ष्य को आसान बनाया जा सकता है। जीवन में खुश होने का मतलब यह नहीं है कि सब कुछ एकदम सही है। अपना जीवन इस तरह से जीयें और इस तरह से सीखें की सदज्ञान की प्राप्ति हो। इस अवसर पर अतिथियों ने पर्यटन मित्र फिरोज इकबाल को उनके पर्यटन और शिक्षा के क्षेत्र में किये जा रहे योगदान के लिये सम्मान पत्र के साथ परमहंस योगानन्द की पुस्तक योगी कथामृत व लुक आलवेज टू दा लाईट की सीडी भी भेंट की। इस अवसर पर हेमन्त, सुगन्धा, रिचा व काफी संख्या में छात्र छात्राएं मौजूद रहे।
 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें