< वाटिका का भ्रमण कर औषधियों की प्राप्त की जानकारी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सम्मेलन में वैद्यों ने साझा किए अनुभव

प्रभु "/>

वाटिका का भ्रमण कर औषधियों की प्राप्त की जानकारी

सम्मेलन में वैद्यों ने साझा किए अनुभव

प्रभु श्रीराम की नगरी चित्रकूट में दीनदयाल शोध संस्थान के आरोग्यधाम में दो दिवसीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं परम्परागत वैद्य सम्मेलन का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा में दीप प्रज्जवलित कर संत समाज के अध्यक्ष सीताशरण दास, संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन व राजवैद्य पं कैलाश प्रसाद मिश्र ने किया।

सम्मेलन में 18 केन्द्रों के 55 स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं पारम्परिक चिकित्सा करने वाले वैद्यो ने अपने चिकित्सीय ज्ञान व अनुभव साझा किए। कार्यक्रम में संत सीताशरण दास ने कहा कि राष्ट्रऋषि नानाजी द्वारा स्थापित आरोग्यधाम में वैद्यों के अनुभवों को साझा करने का पुनीत कार्य प्रारंभ हुआ है। संगठन सचिव अभय महाजन ने कहा कि चिकित्सक वैद्य जीवन रक्षक माना जाता है। सभी लोग भारतीय परम्परा हिन्दु संस्कृति को मानने वाले हैं। दीनदयाल शोध संस्थान इस पेशे को बचाने का कार्य कर रहा है।

इस दौरान स्थापित औषधि वाटिका की औषधियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। उद्यान में लगी पट्टिकाओं को पढकर डायरी में नोट किया। रसशाला द्वारा निर्मित दादी मां के बटुवा से प्राथमिक आयुर्वेदिक चिकित्सा उपलब्ध कराने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने अपने अनुभव साझा कर पेशे में आ रही कठिनाईयों से अवगत कराया। 
 

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में स्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, .

अन्य खबर

चर्चित खबरें