< बैंक कैशियर की लूट के बाद हत्या करने वाले तीन अभियुक्त गिरफ्तार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News लूटपाट के इरादे से की थी हत्या
मुठभेड़ के बाद पुलिस गिर"/>

बैंक कैशियर की लूट के बाद हत्या करने वाले तीन अभियुक्त गिरफ्तार

लूटपाट के इरादे से की थी हत्या
मुठभेड़ के बाद पुलिस गिरफ्त में आये

बांदा शहर के नवाब टैंक के समीप को-आपरेटिव बैंक के कैशियर की गोली मारकर हत्या कर मोबाइल लूटने वाले हत्यारों को पुलिस ने सोमवार की रात एक मुठभेड़ के दौरान गिरफ्त कर लिया है। पकड़े गये अभियुक्तों के कब्जे से नाजायज तमंचे, लूट में प्रयुक्त मोटर साइकिल और लूटा गया एप्पल कंपनी का मोबाइल बरामद किया है। घटना का खुलासा करते  हुये मंगलवार को डीआईजी चित्रकूट धाम परिक्षेत्र मनोज तिवारी ने पत्रकारों को बताया कि विगत 13 अगस्त 2018 को कोतवाली अन्तर्गत नवाब टैंक अतर्रा रोड़ पर मोटर साइकिल में सवार अज्ञात बदमाशों ने रजनीश करवरिया जो को-आपरेटिव बैंक में कैशियर था की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और उसका एप्पल मोबाइल लूट लिया गया था।

इस घटना का खुलासा न होने पर पुलिस की किरकिरी हो रही थी। पुलिस अपराधियों को पकड़ने के लिये निरन्तर प्रयास कर रही थी। सोमवार की रात बिसण्डा थानाध्यक्ष आनन्द सिंह, नीरज कुमार सिंह थानाध्यक्ष कालिंजर, कुशलपाल सिंह प्रभारी मीडिया सेल एवं एस आई कोतवाली चन्द्रपाल सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ बदमाश पवई सिलोड़ी नहर बम्बी पुलिया चैराहे पर लूटपाट के इरादे से खड़े है। इस सूचना पर पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर बदमाशों को ललकारा तब बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग की जवाब में पुलिस ने कई राउण्ड फायरिंग की।

बाद में पुलिस बल ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की पकड़े गये अभियुक्तों में शिवपूजन बाजपेई से रजनीश करवरिया हत्याकाण्ड के बारे में पूंछतांछ करने पर उसने स्वीकार किया कि 13 अगस्त को अपने साथी हरिबाबू कोरी व दीपू सेन जो उस समय चित्रकूट में मौजूद थे बांदा बुलवाया ताकि लूटपाट कर कुछ रूपयों की व्यवस्था की जा सके। हरिबाबू व दीपू बस द्वारा चित्रकूट से अतर्रा चुंगी पहुंचे जहां मै उनसे मिला। शाम को तीनों ने चुंगी के पास शराब पी और लूटपाट की नियत से कुछ ट्रको को रोककर उनसे करीब 500 रूपये लूटे। इसके बाद वह नवाब टैंक मोड़ पर पहुचे जहां रजनीश करवरिया अपनी मोटर साइकिल से अतर्रा की ओर जा रहा था।

उसकी मोटर साइकिल रोककर एप्पल मोबाइल छीन लिया गया जब उससे रूपये छीनने का प्रयास किया गया तो उसने प्रतिरोध किया। इस पर मैने अपने तमंचे से रजनीश करवरिया पर गोली चला दी। गोली लगते ही रजनीश करवरिया नीचे गिर गया और हम मोटर साइकिल से फरार हो गये और कुशवाहा नगर बांदा में मेरे द्वारा लिये गये किराये के कमरे में पहुंचे जहां रजनीश की लूटी गयी एप्पल मोबाइल व उस पर चलाये गये 12 बोर का खोखा पालीथीन में रखकर बबूल की झाडी में फेंक दिया। हरिबाबू व दीपू दोनो मेरे कमरे में रात भर रूके रहे। सुबह बस द्वारा चित्रकूट चले गये।

इस सम्बंध में हरिबाबू कोरी ने भी शिवपूजन के बयानों को सही बताया। पकड़े गये अभियुक्तो में शिवपूजन बाजपेई पुत्र रामकृपाल बाजपेई निवासी ग्राम कनवारा हालमुकाम कुशवाहा नगर बांदा, हरिबाबू कोरी उर्फ सूरज सिंह पुत्र कल्लूराम निवासी ब्रजपुर थाना ब्रजपुर हालमुकाम सढा थाना कालिंजर और दीप सेन पुत्र राकेश उर्फ लल्ला निवासी अचारन थोक थाना मटौंध जनपद बांदा हाल मुकाम रामघाट कर्वी चित्रकूट शामिल है।
 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें