<  मासूम से सामूहिक दुष्कर्म, मंदिर का पुजारी और सहायक गिरफ़्तार Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News गोराघाट थाना के ग्राम उचाड़ में 7 साल की मासूम बालिका से मंगलवार द"/>

 मासूम से सामूहिक दुष्कर्म, मंदिर का पुजारी और सहायक गिरफ़्तार

गोराघाट थाना के ग्राम उचाड़ में 7 साल की मासूम बालिका से मंगलवार दोपहर सामूहिक दुष्कर्म करने वाले रामजानकी मंदिर के पुजारी व सेवक को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ में जुटी है। इससे आरोपितों द्वारा की गई और भी घटनाओं का खुलासा हो सकता है। मालूम हो, कि मंगलवार दोपहर उचाड़ निवासी 7 साल की मासूम गांव के प्राइमरी स्कू ल से पढ़कर मंदिर के रास्ते अपने घर लौट रही थी।

मंदिर के बाहर से अरोपित उसे प्रसाद देने के बहाने से मंदिर परिसर में ले गए। मंदिर के कक्ष में पुजारी राजू पंडित 55 व सेवक बटोली प्रजापति 45 ने बालिका के साथ सामूहिक दुष्कर्म कि या। बच्ची ने घर पहुंचकर उसे दर्द होने की बात कही, तो परिजन के पूछने पर बालिका ने पूरी घटना बता दी। इसके बाद परिजन मंगलवार शाम को पीड़ित मासूम को लेकर गोराघाट थाना जा पहुंचे।

घटना पता चलते ही रात में ही एसपी मयंक अवस्थी, एएसपी मंजीत सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। वहीं गोराघाट थाना प्रभारी रिपुदमन सिंह राजावत ने ने तत्परता दिखाते हुए आरोपितों की घेराबंदी कर उन्हें हिरासत में ले लिया। पुलिस के मुताबिक आरोपित पूर्व में भी बालिका के साथ छेड़छाड़ कर चुके है। आरोपितों की घेराबंदी करने वाली टीम में शामिल एएसआई राजकु मार सिंह राजावत ने बताया कि आरोपितों से सघन पूछताछ की जा रही है। संभावना है कि आरोपितों द्वारा इस तरह की और भी घटनाएं की गई हो, जो पूछताछ में उजागर हो सकती है।

9 दिन में सामूहिक दुष्कर्म की दूसरी घटना

जिले में 9 दिन के अंदर सामूहिक दुष्कर्म की उचाड़ में घटित हुई यह दूसरी घटना है। इससे पूर्व 24 सितंबर को जिगना थाना के ग्राम जिगना में मंदिर पर पूजा करने गई युवती को तीन युवक बाइक पर बैठाकर अगुवा कर ले गए थे तथा सामूहिक दुष्कर्म कि या था। बाद में घटना में राजीनामा करने के लिए आरोपियों व उनके परिजनों ने पीडि़ता के परिवार को धमकाने के लिए उनके घर पर फायरिंग की थी। इसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा। उक्त घटना में पुलिस ने पीडि़ता के पिता की रिपोर्ट पर 3 आरोपियों के ि विरुद्ध दुष्कर्म व अन्य आरोपियों पर फायरिंग व धमकाने का कु ल 8 लोगों के विरुद्ध अपराध दर्ज कि या था। नामजद आरोपियों में से 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि दो आरोपी अब भी फरार है।

दो महीने पहले दुष्कर्म की एक घटना में कोर्ट ने सुनाई थी आरोपी को फांसी की सजा, फिर भी नहीं मान रहे हैवान-

थरेट थाना क्षेत्र में 29 मई को शादी समारोह में शामिल होने आई 6 साल की मासूम से दुष्कर्म के साथ बारात में लोडिंग वाहन लेकर आए आरोपी मोतीलाल अहिरवार ने दुष्कर्म कि या था। मामला न्यायालय में सुनवाई के लिए पहुंचा। एडीजे हितेंद्र द्विवेदी के न्यायालय ने 8 अगस्त को फै सला सुनाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। जज ने फै सले में लिखा कि आरोपी अंतिम सांस तक जेल में रहेगा। न्यायालय ने आरोपी पर 60 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया था। न्यायालय द्वारा दुष्कर्म के आरोपी को कठोरतम निर्णय सुनाए जाने के बाद भी मासूमों पर हैवानियत की घटनाएं कम नहीं हो रही है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें