< प्रशासन की गुंडई, न्याय मांगने वालों पर ही पुलिस ने बरसाई लाठियां Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News लो देखो एक नमूना

अधिकारी निष्पक"/>

प्रशासन की गुंडई, न्याय मांगने वालों पर ही पुलिस ने बरसाई लाठियां

लो देखो एक नमूना

अधिकारी निष्पक्ष कार्यवाही करना ही नहीं चाहते ? कार्यवाही या तो धन के आधार पर होती है या फिर जनतंत्र के उग्र प्रदर्शन के आधार पर, यही सत्य है । अगर पीड़ित को समय से न्याय मिल जाए तो ना अनशन ना प्रदर्शन और ना सड़क जाम की जरूरत पड़ती है , लेकिन दुर्भाग्य हमारे देश का कानून इस तरह का है कि जब तक किसी की मृत्यु ना हो जाए तब तक उसे न्याय की आस केवल सपना ही बनी रहती है ।

मेडिकल में मृतक पांडे परिजनों के साथ जूनियर डॉक्टरों की अभद्रता और फिर उनके हड़ताल प्रदर्शन करने जैसी गतिविधियों के दबाव में पुलिस द्वारा मृतक परिजनों पर ही मुकदमा लिख लेना कहां का न्याय है ? बड़ा सवाल है - राजनीति करने वाले नेताओं का, समाज सेवा का प्रण लेकर अखबारों में छपने वाले समाजसेवीयों का, पत्रकारिता कर रहे उन नौजवान साथियों का, या फिर आम जन की उन भावनाओं का , क्या होगा जब पुलिस पक्षपात करेगी ।

आप जब पत्रकारों के द्वारा एक पीड़ित को न्याय दिलाने की मुहिम प्रारंभ की गई और उसमें जनसमर्थन मिलना प्रारंभ हुआ तो प्रशासन की गुंडई देखिए पुलिस न्याय मांगने वालों पर ही लाठियां और गिरफ्तारी पर आमादा हो गई ।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें