< दृढ़ संकल्पित होकर काम करेंगे तो निश्चित सफलता मिलेगी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News संभागायुक्त मनोहर दुबे ने कहा है कि हम सब यहां महान उद्देश्य को "/>

दृढ़ संकल्पित होकर काम करेंगे तो निश्चित सफलता मिलेगी

संभागायुक्त मनोहर दुबे ने कहा है कि हम सब यहां महान उद्देश्य को लेकर एकत्रित हुए है। मकसद मातृ और शिशु मृत्यु दर में कमी लाना है। आज यहां आंगनबाडी कार्यकत्र्ता ए.एन.एम. और जन अभियान परिषद के कार्यकत्र्ता मौजूद है। जिले में आई.एम.आर. प्रदेश व देश से अधिक है, हम सब दृढ़ संकल्पित होकर काम करेंगे तो निश्चित ही हमें सफलता मिलेगी। संभागायुक्त आज हटा नवोदय विद्यालय परिसर में आयोजित प्रथम एक हजार स्वर्णिम दिवस के संदर्भ में स्वास्थ्य एवं पोषण संवाद कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर बोल रहे थे। इस अवसर पर कलेक्टर डॉ. जे विजय कुमार, सी.ई.ओ. जिला पंचायत डी.एस. रणदा विशेष रूप से मौजूद थे।

संभागायुक्त मनोहर दुबे ने कहा हम सब संकल्पित होकर काम करेंगे तो निश्चित ही मृत्यु दर घटेगी। हम सब की ड¬ूटी है, इसे कम करें। यदि हम इस कार्य में सक्रियता से कार्य नहीं करेंगे तो पाप के भागीदार है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि बच्चों का जन्म अस्पताल में हो, निर्धारित ए.एन.सी. हो गर्भावस्था की समस्या का पता चल जायें तो हम आवश्यक कदम उठा सकते है। संभागायुक्त ने कहा मातृ और शिशु मृत्यु दर का कारण कुपोषण भी है। उन्होंने कहा स्वर्णिम एक हजार दिन में चूक करने से परेशानी होती है। श्री दुबे ने कहा इस दौरान बच्चों का विकास तेजी से होता है। दो साल के भीतर बच्चें का दिमाग विकसित होता है, इस दौरान हम सब लोगों में जागरूकता पैदा करने में मेहनत करें।

संभागायुक्त ने कहा मैं एक बार फिर से आप सबको दायित्व से अवगत कराना चाहता हूं, कार्य कठिन नहीं है, आप सब कर सकते हैं। कार्यकत्र्ता एएनएम सहायिका आपसी मदभेद भुलाकर गांव के लिए रणनीति बनाकर काम करें। उन्होंने कहा समय पर टीकाकरण हो जायें तो बीमारी रूकेगी, बीमारी ना हो इसके लिए पोषण आवश्यक है। यह भी कहा जन्म के एक घण्टे के भीतर बच्चें को मां का दूध मिलना जरूरी है, उन्होंने कहा माताओं को अवगत करायें 6 माह तक मां का दूध पर्याप्त है। उसके बाद दाल का पानी ही नहीं दाल भी खिलाना है। इसके साथ ही विभिन्न प्रकार खादय मिलाकर खिलायें जाने की समझाईश दें।

इस अवसर पर उपस्थित सभी को शपथ दिलाई गयी कि हम अपने कार्य को निष्ठापूर्वक पूरा करेंगे। साथ ही संबल योजना के तहत सभी पात्रों का पंजीयन कराने की बात भी कही गयी। संभागायुक्त ने कहा अपने मोबाइल पर एप मिला है, उसपर काम करे आपको बार-बार हेडवाक्टर आने की जरूरत नहीं होगी। इसके पूर्व कलेक्टर डॉ. जे विजय कुमार ने अपनी बात रखी। कार्यक्रम दौरान सीईओ जिला पंचायत डी.एस. रणदा ने कहा संभागायुक्त द्वारा बताई गयी बातों पर गंभीरता से कार्य करें।

इस अवसर पर महिला बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक, जन अभियान परिषद के संभागीय अधिकारी और जिले और परियोजनाओं के अधिकारी, आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ता एएनएम और जन अभियान परिसर के कार्यकत्र्ता, कर्मचारी, सरपंच, सचिव मौजूद थे। संभागायुक्त ने दूसरे सत्र में सरपंच और सचिवों के साथ प्रथम एक हजार स्वर्णिम दिवस के संदर्भ में स्वास्थ्य एवं पोषण संवाद कार्यक्रम के संबंध में विंस्तार से बात रखते हुए इस दिशा में सहयोग का आव्हान किया।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें