< भाकियू ने किया बुंदेलखंड अलग राज्य की मांग का समर्थन Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) ने भी अलग बुंदेलखंड राज्य की वकालत "/>

भाकियू ने किया बुंदेलखंड अलग राज्य की मांग का समर्थन

भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) ने भी अलग बुंदेलखंड राज्य की वकालत कर अनशनकारियों को अपना समर्थन दिया।  जिलाध्यक्ष जगराम तिवारी के नेतृत्व में पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा। जिसमें कहा गया गया है कि मौजूदा समय में केंद्र के साथ ही यूपी एमपी में भाजपा की सरकार है ऐसे में पृथक राज्य निर्माण में कोई मुश्किल नहीं है। आसानी से यह संभव है। अलग राज्य बुंदेलखंड अभी नहीं बन पाया तो फिर कभी हीं बन पाएगा।

ज्ञापन में कहा गया है कि भाजपा हमेशा से छोटे राज्यों की हिमायती रही है। केंद्र की तत्कालीन अटल सरकार ने ही उत्तराखंड, झारखंड, छत्तीसगढ़ राज्य बनाए। तेलंगाना भी बनाया तो पीएम से सवाल पूछा गया है कि आखिर बुंदेलखंड राज्य बनाने में देरी क्यों। यह मांग लंबे समय से चल रही है। भाजपा के कई दिग्गज नेताओं ने पृथक बुंदेलखंड राज्य बनाए जाने के लिए न सिर्फ अपनी सहमति प्रदान की है बल्कि सैद्धांतिक रूप से वह आज भी इसके लिए तैयार है। बताया कि बुंदेलखंड के महोबा स्थित आल्हा चौक में 28 जून से पृथक बुंदेलखंड राज्य निर्माण की मांग को लेकर समाजसेवियों अधिवक्ताओं का अनशन चल रहा है।

ज्ञापन सौंपने दौरान जिला उपाध्यक्ष सुभाष चौरसिया, लखनलाल, सुरेश, हरिहर, विनोदनी तिवारी, दिनेश चंद्र, रामचरन कुशवाहा आदि मौजूद रहे। उधर अनशन स्थल पर तारा पाटकर, अधिवक्ता सुखनंदन सिंह यादव सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें