< मिठाईयों की दुकानों में बेचा जा रहा मीठा जहर Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News खुले में रखी मिठाईयां दिन भर फांकती रहती है धूल

मिठाईयों की दुकानों में बेचा जा रहा मीठा जहर

खुले में रखी मिठाईयां दिन भर फांकती रहती है धूल

दूषित मिठाईयों का सेवन करने से दर्जनों बीमार

पत्थर उद्योग मण्डी में संचालित मिठाई की दुकानों में उपभोक्ताओं को मीठा जहर बेचा जा रहा हैं। प्रतिष्ठान में खूली मिठाई रखी रहती है जिनमें क्रेसरों से उढने वाली डस्ट व भीषण उमश व गर्मी के बीच मक्खियों के बैठने से दूषित हो रही है। वही बरसात के मौसम में मिठाईयां ग्राहकों को बेची जा रही है जिससे कस्वावासी डायरिया जैसी बीमारियों की चपेट में आ रहे है। कस्वावासियों ने संचालित दुकानदार पर दूषित कई दिन पुरानी मिठाईयां बेचने का आरोप लगाया है।

गौरतलब है कि पत्थर उद्योग नगरी कस्बा कबरई के मुख्य बाजार में लम्बे समय से संचालित मिठाई की दुकान में मीठा जहर बेच जा रहा है। बरसात के मौसम मे भी खुले में मिठाईयां रखी जाती है। जिसमें सारा दिन गन्दगी व दूषित मिठाईयां ग्राहकों को बेच दी जाती है जिसके खाने से अभी तक दर्जन भर से अधिक कस्वावासी डायरिया जैसी बीमारियो ंकी चपेट में आ चुके है। दूषित मिठाईयों का सेवन करने से बीमार लोगों ने प्रतिष्ठान मालिक की शिकायत फूड इन्सपेक्टर को प्रार्थना पत्र भेज बनाई जा रही विभिन्न प्रकार की दूषित मिठाईयों का सैम्पिल लेकर कार्यवाही किये जाने की मांग की है। पीडित कस्वावासियों द्वारा की गई शिकायत के बाद भी फूड इंस्पेक्टर ने उसकी दुकान पहुंच अभी तक छापामारी अभियान नही चलाया है जिससे प्रतिष्ठान मालिकों  के हौसले बुलन्द बने हुये है और दूषित मिठाईयां तथा हफ्तो से न बिकने वाली मिठाईयों को मिलाकर नई प्रकार की मिठाई बना उसे पुनः बेच दिया जाता है। जो ग्राहक घर ले जाते खाने पर बीमार हो रहे है।

बता दें कि पत्थर उद्योग नगरी होने के कारण ज्यादातर बाहर से आये सैकडों की संख्या में मजदूर वर्ग काम करता है। जो दिन रात पहाडों में काम करते है और हारे थके आकर पैसा मिलने पर अपने बच्चों के लिये इन्ही दुकानदारों से मिठाईयंा लेकर बच्चों को खिला रहे है जिससे उनके बच्चे बीमार हो रहे हैं मजदूरी का कार्य कर आ रहे अपने पेट की भूख शान्त करने के लिये दुकानो के पास पहुंचते है जहां उन्हे दुषित मिठाईयां खिला दी जाती है जिससे वह बीमार हो जाते है। यह खेल प्रतिष्ठान मालिक द्वारा लम्बे समय से खेला जा रहा है। अन्य प्रान्तों के होने के कारण यह लोग इन दुकानदारों पर कोई कार्यवाही करने से कतरा रहे है। इस कारण प्रतिष्ठान स्वामियों के हौसले बुलन्द बने हुये है। कस्वावासियों ने मीठा जहर बेचने वाले दुकानदार के खिलाफ मोर्चा खोल उसकी शिकायत फूड इन्सपेक्टर से की है। परन्तु अभी तक कार्यवाही न होने के कारण कस्वावासियों में रोश बना हुआ है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें