< हादसों को दावत दे रहे नीचे लटकते विद्युत वायर Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विभागीय उदासीनता के चलते दो माह से व्यवस्थित नहीं हो सक"/>

हादसों को दावत दे रहे नीचे लटकते विद्युत वायर

विभागीय उदासीनता के चलते दो माह से व्यवस्थित नहीं हो सके वायर

कस्बा महरौनी के गांधी चौक बाजार में सडक किनारे गत लगभग दो माह से बिजली के तार जमीन से बहुत कम ऊंचाई पर लटक रहे हैं जिससे जानमाल का खतरा बना हुआ है। विद्युत विभाग की उदासीनता का आलम यह है कि स्थानीय लोगों द्वारा कई बार विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों से इन बिजली के तारों को व्यवस्थित करने की मांग की गयी है लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई कार्यवाही नहीं की गयी है। जिसको लेकर स्थानीय नागरिकों में आक्रोश है।

बताते चलें कि नगर के गांधी चौक बाजार में सुधासागर मार्केट के ठीक सामने सडक किनारे बिजली के तारों के गुच्छे जमीन से महज लगभग पांच फीट की ऊंचाई पर लटक रहे हैं। इतनी कम ऊंचाई पर तार हैं कि छोटे बच्चे भी इनको जमीन पर खडे होकर छू सकते हैं और यहां से गुजरने वाले लोगों को सिर झुकाकर निकलना पडता है। इन बायर्स में जगह जगह पर कट हैं और अनेक स्थानों पर तार छिले हुये हैं,जिससे आये दिन खतरा मंडरा रहा है। यह स्थिति लगभग दो माह से बनी हुई है लेकिन अभी तक विभाग द्वारा इन तारों को व्यवस्थित करने की सुध नहीं ली गयी है। जबकि यह नगर का सबसे व्यस्त इलाका है। सुधासागर मार्केट में लगभग एक दर्जन दुकानें और सेन्ट्रल बैंक की शाखा संचालित है। इसी स्थान से होकर प्रतिदिन सैकड़ों लोगों का आवागमन होता है और लोग अपने वाहनों की पार्किंग भी करते हैं।

 स्थानीय नागरिकों संजीव जैन बिलौआ और अरविन्द सर्राफ का कहना है कि इस संबंध में विभाग को मौखिक रूप से कई बार कहा गया है कि इन तारों को ऊंचाई पर बांध दिया जाये जिससे जानमाल का खतरा दूर हो लेकिन किसी ने भी इस समस्या के समाधान कराने की जहमत उठाना मुनासिब नहीं समझा। शायद विभागीय कर्मचारी कोई बडा हादसा होने का इन्तजार कर रहे हैं।

वहीं सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया के शाखा प्रबंधक सौरभ कुमार ने बताया कि नगर एवं क्षेत्र के सैकड़ों लोग प्रतिदिन बैंक शाखा में आते हैं और नीचे लटकते इन विद्युत वायर्स के नीचे से निकलते हैं। ऐसे में कभी भी कोई अनहोनी हो सकती है। शाखा प्रबंधक की मानें तो कुछ दिन पहले विद्युत चैकिंग करने के लिये आयी विभाग की टीम को इस समस्या के बारे में अवगत कराया जा चुका है और तारों की वजह से पैदा हो रही खतरनाक स्थिति की शिकायत की गयी थी। विभागीय अधिकारियों ने शीघ्र ही समस्या समाधान कराने का भरोसा दिलाया था। शिकायत किये हुये लगभग एक माह का समय गुजर चुका है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की गयी।

गौरतलब है कि दो विद्युत पोलों के बीच में एक टेलीफोन का खंभा था जिससे यह विद्युत वायर बंधे हुये थे लेकिन लगभग दो माह पहले वह टेलीफोन का खंभा नगर पंचायत द्वारा गिरा दिया गया है जिससे दर्जनों बायर्स के यह गुच्छे काफी नीचे लटकने लगे हैं। अगर इन विद्युत तारों को जल्द ही ऊपर नहीं कराया गया तो कभी भी कोई अनहोनी हो सकती है। जनहित में समस्या के शीघ्र समाधान हेतु प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें