< आरंभ नाट्य कला मंच के द्वारा रंग उत्सव का आयोजन किया गया Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News आरंभ नाट्य कला मंच के तत्वाधान में आयोजित रंग उत्सव के अंतर्गत ब"/>

आरंभ नाट्य कला मंच के द्वारा रंग उत्सव का आयोजन किया गया

आरंभ नाट्य कला मंच के तत्वाधान में आयोजित रंग उत्सव के अंतर्गत बुधवार शाम बडौनियां मैरिज गार्डन महरौनी में हास्य व्यंग्य नाटक खुल्लमखुल्ला की शानदार प्रस्तुति दी गयी । इस नाटक का मंचन देखने के लिये दर्शकों की भारी भीड़ उमड़ पडी और कलाकारों के बेजोड़ अभिनय से सजी इस प्रस्तुति को खूब सराहा गया।

सर्वप्रथम समारोह के मुख्य अतिथि तहसीलदार महरौनी गुलाब सिंह और बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित अनिल पुरी गोस्वामी(सेवानिवृत्त शाखा प्रबंधक एसबीआई), संजय पांडेय भारत, एवं  संदीप श्रीवास्तव ( सचिव, पाहुना लोकजन समिति टीकमगढ) ने मां शारदा के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। तत्पश्चात आयोजक मंडल द्वारा अतिथियों का स्वागत सम्मान किया गया।

अतिथियों ने अपने उद्बोधन में आयोजन की सफलता हेतु शुभकामनाएं ज्ञापित करते हुये कहा कि महरौनी नगरी सांस्कृतिक एवं साहित्यिक क्षेत्र में हमेशा अग्रणी रही है। यहां प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है और एक से बढकर एक कलाकार मौजूद हैं लेकिन उनको उचित मंच ना मिल पाने से ये प्रतिभायें उभर कर सामने नहीं आ पाती हैं। ऐसे में लगभग 30 साल बाद अब नगर में आरंभ नाट्य कला के प्रयास से थियेटर को पुनर्जीवित करने का जो प्रयास किया जा रहा है वह सर्व सराहनीय है।जिसके लिये इस संस्था के सभी सदस्य बधाई के पात्र हैं। अतिथियों के उद्बोधन के बाद श्रीगणेश देव की स्तुति हुई और फिर नाटक का मंचन शुरू हुआ।

नाटक की विषयवस्तु में मुख्य रूप से एक काल्पनिक पुलिस थाना कल्पनापुर की पृष्ठभूमि को आधार बनाकर पुलिस प्रशासन में फैले भ्रष्टाचार पर करारा प्रहार किया गया। नाटक के माध्यम से हास्य व्यंग्य शैली में चुटीले संवादों के साथ पुलिस व्यवस्था की पोल खोली गयी और दर्शाया गया कि किस तरह पुलिस प्रशासन में व्याप्त भ्रष्टाचार से आमजन पीडित होता है।इसके साथ ही नाटक के अन्त में एक जागरूकता संदेश भी समाज को दिया गया। कलाकारों के शानदार अभिनय ने नाटक के हर दृश्य को सजीव बना दिया और तालियों की गडगडाहट से उपस्थित दर्शकों ने कलाकारों को खूब प्रोत्साहित किया।

नाटक में मुख्य भूमिकाओं में पुलिस इंसपेक्टर-बृजेश तिवारी, हवालदार-ऋषिराज मिश्रा,आत्महत्या करने वाला व्यक्ति-रमेशानंद प्रजापति, भागी हुई लडकी का पिता-बलवंत सिंह,रंगकर्मी-राहुल चन्देल, कल्लू पाकेटमार-हृदयेश गोस्वामी, ट्रक ड्राईवर-विक्रम राय,सतर्कता अधिकारी-कौशलेन्द्र सिंह,कांस्टेबल-अब्दुल सलाम आदि ने अपने शानदार अभिनय से खूब सराहना बटोरी। नाटक का लेखन अख्तर अली रायपुर और निर्देशन हृदयेश गोस्वामी शिक्षक ने किया। संगीत कैलाश शुक्ला ऋषि, मुकेश नायक और निवेश गोस्वामी ने दिया।

आयोजन को सफल बनाने में आरंभ नाट्य कला मंच के सहयोगी सदस्यों राकेश मुखिया, सूर्यप्रताप सिंह,महेन्द्र वर्मा,निशांत पुरी गोस्वामी, शशांक सिंह,सोनू पाठक,अमित नायक,संजय शुक्ला, कृष्णकांत भौंडेले,अनुज भौंडेले,कृष्णकांत त्रिपाठी, अतुल श्रीवास्तव, सूर्यकान्त त्रिपाठी, शैलेन्द्र नायक, जानकी पेन्टर, कालीचरण कुशवाहा,गुड्डू खान,काजिम अली आदि सहित दुष्यंत बडौनियां,रीतेश बडौनियां, अनिल बडौनियां ,पवन पटैरिया,दिनेश राय ,रजऊ राजा मैगुवां आदि का सराहनीय सहयोग रहा।

महरौनी क्षेत्र के कलाकारों को मंच देना मुख्य उद्देश्य

संगीत नाट्य कला मंच (नई दिल्ली) से प्रशिक्षण प्राप्त आरंभ नाट्य कला मंच के संस्थापक हृदयेश गोस्वामी ने नाटक खुल्लमखुल्ला की सफल प्रस्तुति के बाद आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में उत्साहित होकर बताया कि इस संस्था की स्थापना का उद्देश्य महरौनी नगर एवं क्षेत्र की उन प्रतिभाओं को मंच देने का प्रयास है जो चाहकर भी अपनी कला को सबके सामने नहीं ला पाते हैं क्योंकि उनके लिये इस छोटी जगह पर उचित मंच नहीं मिल पाता है और संसाधनों का भी अभाव है। ऐसे में अनेक कलाकारों की प्रतिभायें दबी कुचली रह जाती हैं और दम तोड़ देती हैं। ऐसे में रंगमंच में रुचि रखने वाले रंगकर्मियों की एक टीम बनाकर उनके साथ पूर्ण मनोयोग से कार्य किया जायेगा।

इस विधा के जानकार और अनुभवी कुशल प्रशिक्षकों के माध्यम से विधिवत प्रशिक्षण दिया जायेगा। आगामी कार्ययोजना के बारे में जानकारी देते हुये हृदयेश गोस्वामी ने बताया कि निकट भविष्य में कुछ अन्य रोचक विषयों पर नाटकों के मंचन की तैयारी की जायेगी और कोशिश रहेगी कि अधिक से अधिक युवा नवोदित कलाकारों को इस थियेटर मंच के माध्यम से बढावा दिया जाये।उन्होंने कहा कि रंगमंच अभिव्यक्ति का सशक्त माध्यम है और हम इसके माध्यम से अपनी लोकसंस्कृति को बढावा देने का भरपूर प्रयास करेंगे। इस प्रयास में उन्होंने क्षेत्र के रंगमंच प्रेमियों से भी अपेक्षित सुझाव ,मार्गदर्शन और सहयोग प्रदान करने की अपील की है जिससे यह संस्था अपने लक्षित उद्देश्य को पूर्ण करने की दिशा में अग्रसर हो सके।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें