< क्राइम पेट्रोल देखकर मध्य प्रदेश पुलिस को दिया चकमा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News ललितपुर जीआरपी पुलिस ने नोएडा भाग रही नाबालिग को किया ब"/>

क्राइम पेट्रोल देखकर मध्य प्रदेश पुलिस को दिया चकमा

ललितपुर जीआरपी पुलिस ने नोएडा भाग रही नाबालिग को किया बरामद

थानाध्यक्ष जीआरपी संजय कुमार सिंह के अपराध और अपराधियों की रोकथाम हेतु रेलवे स्टेशन व प्लेटफार्म पर आने व जाने वाली ट्रेनों की सघन चैकिंग व अपराध के ग्राफ को शून्य करने हेतु की जा रही कार्यवाही के दौरान गैर प्रान्त से लापता लडक़ी की सकुशल बरामदगी कर सम्बन्धित थाना पुलिस को उक्त नाबालिग गुमशुदा लडकी को सुपुर्द किया गया।

पुलिस अधीक्षक रेलवे हिमांशु कुमार के आदेशों के अनुपालन में थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने उप निरीक्षक शेरपाल सिंह, आरक्षी अजमत उल्ला, आशाराम, मो.अब्दुल समद, राजकुमार, आशीष कृष्ण के रेलवे स्टेशन पर आने व जाने वाली ट्रेनो व स्टेशन परिसर/प्लेटफार्म चैकिंग कर रहे थे कि द्वारा दूरभाष अलर्ट प्राप्त हुआ कि एक लडकी जिसका नाम सारिका तिवारी (परिवर्तित नाम) उम्र करीब 14 -15  वर्ष है किसी ट्रेन से नोएडा जाने की फिराक में है। उक्त लडकी की गुमशुदगी उसके पिता मधुरंजन तिवारी पुत्र शम्भू तिवारी नि.टावर कोलार रोड जिला भोपाल म0प्र0 द्वारा थाना कोलार रोड भोपाल म.प्र. में मु0अ0सं0 437/ 18 धारा 363 भादवि पंजीकृत करायी गयी है।

चूँकि प्रकरण नाबालिग बच्ची से सम्बन्धित था इस कारण थानाध्यक्ष द्वारा मामले की गम्भीरता के दृष्टिगत सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर तलाश में लग गये। चूँकि सूचना किसी ट्रेन के माध्यम से भागने से सम्बन्धित थी इस कारण ट्रेनो में सघन तलाश कर प्रत्येक बोगी के चप्पे चप्पे को छाना जा रहा था उधर म.प्र.पुलिस अपनी सीमा पर सघन तलाश अभियान अलग से जारी किये हुए थी। कई ट्रेनो में आगे से पीछे तक की खाक छानने के बाद जब मौजूद पुलिस बल हिम्मत हार कर थक गया व मायूस हो गया तथा अगले 20 मिनट तक कोई ट्रेन न आने की सूचना पर थानाध्यक्ष द्वारा तत्परता व हिम्मत नहीं हारी।

थानाध्यक्ष चैकिंग करते हुए आखिरी छोर पर बने टीन शैड के पास पहुंचे तो एक लडकी अपना मुंह बांधे हुए तथा आँखो में चश्मा लगाये हुए पुलिस बल को देख विपरीत दिशा में मुंह कर इयर फोन कान में लगाकर यह प्रदर्शित करने का प्रयास कर रही थी कि वह गाना सुन रही है परन्तु थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह को उक्त लडकी की गतिविधियों पर संदेह हुआ तो उसे टोका गया तो वह घबरा गयी व कांपने लगी तुरन्त थाने से महिला कांसटेबिल सुधा गोसाई को द्वारा दूरभाष बुलाया गया तथा उस लडकी से पूंछतांछ करते हुए मुंह खुलवाया गया तो गुम लडकी के हुलिया से हूबहू मेल खाने पर उससे महिला आरक्षी के माध्यम से पूंछतांछ की गयी तो उसने बताया कि वह अपने माता पिता के साथ भोपाल में रहती है तथा घर में विवाद हो जाने के कारण नोएडा अपनी सहेली के पास जा रही थी। बताया कि मैं पिछले सभी स्टेशनो पर म0प्र0 पुलिस को चकमा देने में सफल रही परन्तु आप लोगो से नही बच सकी।

थानाध्यक्ष द्वारा जब उससे पूंछा गया कि तुम अभी बच्ची हो इतना सारा दिमाग तुमने कैसे लगा लिया तो उसने मुस्कराते हुए कहा कि सर मैने यह सब टीवी पर क्राइम पेट्रोल में देखा कि पुलिस को कैसे चकमा देना है परन्तु यूपी पुलिस के आगे मै हार गयी। थाना कोलार रोड भोपाल म0प्र0 उक्त लडकी की बरामदगी के सम्बन्ध में सूचना दी गयी। थाना कोलार रोड भोपाल म0प्र0 से हे.कां. महेन्द्र, हे.का. लक्ष्मी म.आ. कंचन यादव के थाना हाजा उपस्थित आने पर  बरामद नाबालिग लडकी को उनकी कस्टडी में दिया गया। जीआरपी ललितपुर पुलिस द्वारा किये गये अथक प्रयास व थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह की दृढ इच्छा शक्ति का ही परिणाम रहा कि जिस लडकी की तलाश में सम्पूर्ण मध्य प्रदेश पुलिस खाक छानती रही उसे दौरान चैकिंग मात्र फोन पर प्राप्त सूचना पर ही त्वरित ठोस व धरातलीय कार्यवाही करते हुए सकुशल नाबालिग लडकी को बरामद किया गया।

थानाध्यक्ष जीआरपी ललितपुर संजय कुमार सिंह द्वारा की गयी अकल्पनीय विशेष उच्च कोटि की इस कार्यवाही की थाना कोलार रोड भोपाल म0प्र0 इंचार्ज द्वारा भूरि भूरि प्रशंसा की गयी। थानाध्यक्ष जीआरपी ललितपुर संजय कुमार सिंह व उनकी टीम द्वारा की गयी इस कार्यवाही की सर्वत्र प्रशंसा की जा रही है। बरामद लडकी के परिजनो द्वारा जीआरपी ललितपुर पुलिस का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अगर जीआरपी ललितपुर द्वारा अथक प्रयास न किये जाते तो वह अपनी पुत्री को कभी न पा पाते।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें