< अपने मूल स्वरूप की ओर ओडी नदी की निलकने लगी जलधारा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विकास खण्ड मड़ावरा के ग्राम हँसेरा में जिलाधिकारी मानवेन्द्"/>

अपने मूल स्वरूप की ओर ओडी नदी की निलकने लगी जलधारा

विकास खण्ड मड़ावरा के ग्राम हँसेरा में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में ओडी नदी पुनर्जीवन क्षेत्रीय संवाद एवं नदी मित्र गोष्ठी का आयोजन किया गया।  जिलाधिकारी मानवेन्द्र से कहा कि ओडी नदी को पुनर्जीवित जन सहभागिता से जिन्दा करेंगें। उपस्थित जन समुदाय को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने कहा कि आप सभी के सहयोग से ओडी नदी को जिन्दा करने का काम पूरा करना है। कहा कि मनरेगा से हर वर्ष ओडी नदी की शिल्ट सफाई का काम हो सकता है। सामूहिक प्रयास से इस नदी को पुनर्जीवित करेंगे। जब यह काम पूरा नहीं होगा तब तक हम काम कराते रहेंगें। मैं आभारी हूँ राजेन्द्र सिंह जलपुरुष का जिन्होनें इस कार्य को करने में विशेष योगदान दिया। मैं सबसे अधिक धन्यवाद बुंदेलखण्ड सेवा संस्थान के मंत्री बासुदेव सिंह को धन्यवाद देना चाहूंगा, क्योंकि उन्होंने हमें ओडी नदी को जिन्दा करने के कार्य हेतु अनुरोध किया था। उन्होंने कहा कि 22 दिनों से कार्य चल रहा है 3-4 फिट तक नदी में पानी आ गया इससे ग्रामीणों को काफी फायदा हुआ है  ओडी नदी मदनपुर, दिदोनियाँ, हँसेरा, पहाडीकला सहित कुल चार गांवों से होकर निकली है।

जिलाधिकारी के भागीरथी प्रयास सफलता की ओर अग्रसर है जिलाधिकारी भी ओडी नदी में झिरों से झिरकर भरे पानी को देखकर बेहद प्रशन्न नजर आये। उनके जीवन का यह महत्वपूर्ण कार्य ओडी नदी पुनर्जीवन सबके लिये खुशियों से भरा है। ओडी नदी के जिन्दा होने से आसपास के गॉंवों के ग्रामीण, किसान सभी खुश नजर आ रहें हैं। ओडी नदी पर युद्ध स्तर पर कार्य चल रहा है। कार्य की गति एवं सफलता सबके लिये आशा की नई किरण बनकर उभरी है जिलाधिकारी इस कार्य को अपनी मौजूदगी में सफलतापूर्वक सम्पन करने का वीणा उठा चुके हैं। आब वह दिन दूर नहीं जब ओडी की जल धारा अपनी पुरानी गति को पाने से महज चंद कदम दूर है। बारिश की बूंदें ओडी नदी की गति को बढ़ा देंगी और फिर वह वक्त कितना सुखद होगा जब ओडी नदी की तेज गति की अविरल धारा सभी के लिये आकर्षण का केंद्र बनेगी।

कार्यक्रम में जिला उद्यान अधिकारी ने कहा कि उद्यान विभाग द्वारा आंवला, नीबू, अमरूद के पौधों का बाग लग सकता है। रेंजर मड़ावरा आर.एस. यादव ने कहा कि  3 किमी है वन विभाग का पूरा क्षेत्र है जहाँ पर मनरेगा से फलदार पौधों का बृक्षा रोपण किया जा सकता है। फलदार पौधों का बाग तैयार किया जा सकता है। बॉस के पौधे ओडी नदी के किनारे रोपित किये जायेंगे।

एक्सीयन एम.आई. ने कहा कि बुंदेलखंड सेवा संस्थान के मंत्री वासुदेव सिंह  ने जिलाधिकारी महोदय को बताया गया। तीन- चार फिट पानी आ गया है अच्छी सफलता मिली है किन्तु अभी भी बहुत काम करना बाँकी है ओडी नदी में  बहाव को पैदा करना होगा तभी नदी बनेगी। खुशी की बात है की कार्य में सफलता मिल रही है। 

शिल्ट जगह जगह जमा हो गया था उसको हटाया गया है। कम सिचाई वाली फसलें बोएं। नदी किनारे बॉस की पट्टी बनेगी। बॉस रोपड़ का कार्य किया जायेगा। चारों ग्राम पंचायत के तालाबों को कम से कम तीन मीटर गहरा होगा। तालाबों व कुओं को भी गहरी करन कर जिंदा किया जायेगा। जिसका कूप कम गहरा है उसे गहरा किया जायेगा। छत्रपाल सिंह ओडी नदी की पास डली मिट्टी दूर डलवाई जाये। ग्राम प्रधान रुचिका राजा ने कहा कि कम से कम 11 पौधे रोपित करें। शासन की योजनाओ का लाभ जागरूकता के साथ लें। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा चंदेलकालीन राजाओं ने तालाब, कुएं बनवाये थे निश्चित तौर पर उनकी दूरगामी सोचा थी। अब सवाल यह है कि यह पानी नदी में लम्बे समय तक कैसे रहेगा। हमें भी सोचना होगा कि तालाब बनवाए। मशीन व लेवर से बनवाएं। बृक्षारोपण अधिक से अधिक हो। वर्षा के जल को अधिक से अधिक सरंक्षित करना होगा तभी स्थाई समाधान होगा।

कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक, जिला उद्यान अधिकारी, उपजिलाधिकारी विधेश कुमार, श्रम एवं सेवा योजना राज्य मंत्री प्रतिनिधि चंद्रशेखर पंथ, भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष श्रीराम पटैरिया कैलाश साहू, खण्ड विकास अधिकारी बीपी शुक्ला, क्षेत्रीय वनाधिकारी रावसाहब यादव, ग्राम प्रधान हँसेरा खलू सहरिया, प्रधान प्रतिनिधि छत्रपाल सिंह, प्रधान मदनपुर जाहर सिंह, प्रधान प्रतिनिधि पहाडीकला मुकुंद सिंह, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी आलोक दुवे, गुलझारीलाल निरंजन, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि दिदोनियाँ देवेन्द्र राय, विजय सिंह सेंगर, राहुल श्रोती, मानसिंह, प्रकाश राय, शिवकुमार त्रिपाठी, जिला सूचना अधिकारी पीयूषचन्द्र राय, एपीओ ह्रदेश कुमार एमआई आरबी पस्तोर,  नारायण सिंह, रतीराम पटेल, सूरज चौधरी,  हनुमत सिंह तोमर, मुन्ना कोरी, मुकेश पाल उपस्थित रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें