< प्रेस क्लब ने धूमधाम से मनाया हिन्दी पत्रकारिता दिवस Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News पत्रकार की समाज व विकास में अहम भूमिका : पुलिस अधीक्षक

प्रेस क्लब ने धूमधाम से मनाया हिन्दी पत्रकारिता दिवस

पत्रकार की समाज व विकास में अहम भूमिका : पुलिस अधीक्षक

अपनी भाषा व संस्कृति का सम्मान आवश्यक : एसडीएम

पत्रकार समाज का सजग प्रहरी : राजीव बबेले सप्पू

हिन्दी पत्रकारिता दिवस को प्रेस क्लब (रजि.) ने धूमधाम से मनाया। इस अवसर पर गोष्ठी का आयोजन स्थानीय एक मैरिज गार्डन में पुलिस अधीक्षक डा.ओ.पी.सिंह, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक ए.के.विजेता, एसडीएम सदर महेश प्रसाद दीक्षित व क्षेत्राधिकारी सदर हिमांशु गौरव के मुख्य आतिथ्य और जिला सूचना अधिकारी पीयूष चंद्र राय के विशिष्ट आतिथ्य में किया गया। जबकि गोष्ठी की अध्यक्षता प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबेले सप्पू ने और सफल व कुशल संचालन महामंत्री प्रेस क्लब सत्येन्द्र प्रताप सिंह सिसौदिया ने किया।

इस अवसर सर्वप्रथम गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकार भवन में पत्रकार पुरोधा विद्यार्थी जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया गया। तत्पश्चात मैरिज गार्डन के सभागार में गोष्ठी का शुभारंभ विद्यार्थी जी के चित्र के समक्ष पुष्पांजलि कर किया गया। हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर अपने विचार व्यक्त करते हुए वक्ताओ ने कहा कि 1826 में सर्वप्रथम हिन्दी पत्रकारिता के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में लिखा गया है। आज ही के दिन पं. जुगल किशोर शुक्ल ने दुनिया का पहला हिन्दी साप्ताहिक पत्र उदन्त मार्तण्ड का प्रकाशन कलकत्ता से शुरू किया था और इस दिन को पत्रकारिता दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। इस प्रकार भारत में हिन्दी पत्रकारिता की आधारशिला पंडित जुगल किशोर शुक्ल ने रखी थी। उदन्त मार्तण्ड का प्रकाशन 30 मई, 1826 को कलकत्ता से एक साप्ताहिक पत्र के रूप में शुरू हुआ था। अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा.ओ.पी.सिंह ने कहा कि पत्रकार को चौथा स्तम्भ कहा गया है वो ठीक उसी तरह जैसे किसी गाड़ी में चार पहिये होते हैं, अगर उनमे से कोई काम न करे तो गाड़ी आगे नहीं चल सकती। पत्रकार सकारात्मक सोच के साथ अपना कार्य करता है। इनकी लेखनी हर समय समाज को एक नई दिशा देती है।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सदर महेश प्रसाद दीक्षित ने कहा कि अपनी भाषा व संस्कृति की रक्षा करना हर व्यक्ति का दायित्व है। उन्होने एक उदाहरण देते हुए कहा कि कुछ वर्षो पूर्व में एक जनपद में था वह एक बुजुर्ग प्रतिदिन अपनी दुकानों को देखने आते थे एक दिन मैंने पूछा कि आप बृद्ध हो आप क्यो परेशान होते हो तो उन्होंने कहा कि साहब मेरा एक ही बेटा हैं जिसे मैंने गलती से विदेश नौकरी करने भेज दिया अब जब भी उससे कहता हूँ कि अपने देश (गांव) वापस लौट आओ तो वो कहता कि मैं यही ठीक हूँ। एसडीएम ने कहा कि इससे सबक लेकर मैंने अपने बेटे को तत्काल इंग्लिश मीडियम स्कूल से हिंदी मीडियम में पढ़ाया कहने का तात्पर्य अपनी भाषा व संस्कृति का सम्मान आवश्यक है। इस अवसर पर वक्ताओ में  संरक्षक मंडल के प्रताप सिंह पटेल, संतोष शर्मा, सुरेन्द्र नारायण शर्मा, मंजीत सिंह के अलावा वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र रजक, लक्ष्मी नारायण विश्वकर्मा आचार्यजी, बृजकिशोर सिंह चौहान, सुनील चौबे, सुनील शर्मा, अजय बरया, अजित भारती, रवि चुनगी, कृष्णविहारी उपाध्यय, अभय श्रीमाली, मोहम्मद नसीम, पूजा कश्यप, कुन्दन पाल, सुनील जैन आदि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए हिन्दी के प्रचलन पर जोर देते हुए कहा कि हम सब को हिंदी भाषा का प्रयोग अधिक से अधिक करना चाहिए। गोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबेले सप्पू ने कहा कि पत्रकार समाज का सजग प्रहरी है और निश्चित तौर पर वह अपने कार्य को जिम्मेदारी से करता है दिन हो रात हमारा हर साथी मेहनत से निश्वार्थ भाव से अपने काम मे लगा रहता है।अंत मे उन्होने सभी का आभार व्यक्त किया।

समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

समाजसेवा के क्षेत्र में अपना अमूल्य योगदान देने वाले मुक्ति संस्था के संस्थापक अज्जू बाबा एवं पर्यटन क्षेत्र में काफी खोजबीन कर नये-नये आयाम नित स्थापित करने वाले पर्यटन मित्र फिरोज इकबाल को हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर प्रेस क्लब (रजि.) की ओर से वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र रजक द्वारा माल्यार्पण कर सम्मानित किया गया।

About the Reporter

  • मोहम्मद नसीम

    जनपद ललितपुर में पत्रकारिता का एक लम्बा अनुभव लिए मोहम्मद नसीम की पारिवारिक पृष्ठभूमि भी इसी क्षेत्र से सम्बन्ध रखती है। राजनीतिक व सामाजिक मुद्दों पर इनकी गहरी पकड़ है।, ग्रेजुएट

अन्य खबर

चर्चित खबरें