< कलेक्टर ने की समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News स्वरोजगार योजनाओं में गुणवत्तापूर्ण प्रकरण तैयार कराने क"/>

कलेक्टर ने की समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा

स्वरोजगार योजनाओं में गुणवत्तापूर्ण प्रकरण तैयार कराने के निर्देश दिए

राइट टू एजुकेशन के तहत अशासकीय शालाओं की आरक्षित सीटों पर जरूरतमंद बच्चों का प्रवेश सुनिश्चित करें-कलेक्टर

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री मनोज खत्री द्वारा समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक ली गयी। बैठक में उन्होंने सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों में निराकरण की विभागवार एवं अधिकारीवार विस्तृत समीक्षा की। गत माह में शत प्रतिशत संतुष्टि प्रतिशत के साथ सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का निराकरण करने वाले अधिकारियों की सराहना की। वहीं असंतोषजनक संतुष्टि प्रतिशत वाले अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने अधिकारियों को सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का एल-1 स्तर पर ही संतुष्टिपूर्ण एवं तर्कसंगत निराकरण करने के निर्देश दिए। बैठक में उनके द्वारा आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत सर्वे कार्य, विकास यात्रा, कृषक समृद्धि योजना के अन्तर्गत प्रोत्साहन राशि वितरण, स्वरोजगार योजनाओं में लक्ष्यपूर्ति की पूर्व तैयारी, राइट टू एजुकेशन, नलजल योजनाओं में सुधार की प्रगति आदि की भी विस्तृत समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए।

बैठक में सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों के गत माह मंे संतुष्टिपूर्ण निराकरण की समीक्षा करते हुए उन्होंने शत प्रतिशत संतुष्टि के साथ प्रकरणों का निराकरण करने पर पन्ना शहरी श्रीमती किरण खरे एवं परियोजना अधिकारी बाल विकास गुनौर सुश्री कीर्ति प्रभा चंदेल को बधाई दी। उन्होंने कहा कि अन्य अधिकारी भी प्रकरणों के निराकरण में संतुष्टि का प्रतिशत बढाने के लिए प्रयास करें। तभी शासन की मंशा को पूरा किया जा सकता है। विभागवार एल-1 स्तर के लिए निर्धारित समय सीमा के अन्दर ही इन शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण करने हेतु विशेष प्रयास करें। उन्होंने शिकायतकर्ता से व्यक्तिगत रूप से मुलाकात कर उसकी वास्तविक समस्या समझने और संवेदनशीलता के साथ उसका निराकरण कराने के निर्देश दिए। बैठक में आयुष्मान भारत योजना के तहत सर्वे कार्य में प्रगति की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि संबंधित मुख्य नगरपालिका अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत भी सर्वे कार्य पर निगरानी रखें।

इस योजना के अन्तर्गत सर्वे का कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसे गंभीरता के साथ पूर्ण कराएं। साथ ही उन्होंने निपाह वायरस के संबंध में जानकारी देते हुए मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को आवारा सुअरों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। स्वरोजगार येाजनाओं के लक्ष्यों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि शासन से प्राप्त इन लक्ष्यों का विभागवार आवंटन करते हुए बैंकों को भी इसकी जानकारी उपलब्ध कराएं। हितग्राहियों के प्रति पूर्ण सहयोगात्मक रवैया अपनाते हुए स्वप्रेरणा से कार्य करें। विभाग योजनावार गुणवत्तापूर्ण ऋण प्रकरण तैयार कराते हुए स्वीकृति हेतु बैंकों को प्रेषित करंे। उन्होंने इन योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार कराते हुए जरूरतमंदों को स्वरोजगार योजनाओं का लाभ दिलाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि जिले में विकास यात्रा 3 जून से प्रारंभ हो रही है जिसके तहत जिलेभर में विकास कार्यो का भूमिपूजन एवं लोकार्पण भी किया जाएगा। मुख्य नगरपालिका अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों के अलावा संबंधित अन्य विभाग भी इस यात्रा के दौरान सक्रिय भूमिका निभाए।

विकास यात्रा के दौरान जनप्रतिनिधियों को अनिवार्य रूप से शामिल किया जाए। उन्होंने राइट टू एजुकेशन के अन्तर्गत अशासकीय शालाओं में कम से कम 25 प्रतिशत सीटों पर नेबरहुड योजना के तहत ऐसी शालाओं के आसपास के जरूरतमंद बच्चों का निःशुल्क प्रवेश अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के अधिकारी आगे आकर बच्चों से आवेदन प्राप्त करें। उन्होंने आरक्षित सभी सीटों में ऐसे बच्चों का प्रवेश अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस दौरान बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ. गिरीश कुमार मिश्रा, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अशोक चतुर्वेदी, विभिन्न विभागों के जिला प्रमुख सहित समस्त मुख्य नगरपालिका अधिकारी एवं परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा मौजूद रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें