< पेट्रोल डीजल की बढी कीमतों को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News पेट्रोलियम पदार्थाे को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग

"/>

पेट्रोल डीजल की बढी कीमतों को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन

पेट्रोलियम पदार्थाे को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग

बढी कीमतों को तत्काल वापिस लाने के लिए प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को सौपा ज्ञापन

सभा में भाजपा के खिलाफ जमकर गरजे कांग्रेसी

बीते दस दिनों में लगातार बढ़ रहे पेट्रोल डीजल के दामों को लेकर अब कांग्रेस सड़कों पर आ गई है जिसकों लेकर लगातार तीन दिनों से विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी को लेकर पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज दोपहर कचेहरी चैराहे में ब्लाक कांग्रेस कमेटी पन्ना के नेतृत्व में एक विशाल आम सभा का आयोजन कर पेट्रोलियम पदार्थे में की गई मूल्य वृद्वि को लेकर प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौपा। इससे पहले समस्त कांग्रेस कार्यकर्ता सैकड़ों की संख्या में कचेहरी परिसर में एकत्रित हुए जहां पर आम सभा का आयोजन किया गया। सभा को सम्बोधित करते हुए ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनीस खान ने कहा कि देश में पहली बार पेट्रोलियम पदार्थाे की कीमत इतनी बढी है जिससे आम जन मानस में हाहाकार मचा हुआ है। जिसका कारण केन्द्र व राज्य की भाजपा सरकार है।

पेट्रोल की कीमत बाजार में मात्र 37 रूपयें है जबकि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा इसमें दुगने से अधिक टैक्स वसूल कर देश व प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे है। देश के प्रधानमंत्री ने देश में जीएसटी लागू कर दिया है लेकिन पेट्रोलियम पदार्थाे से जीसएटी को दूर रखा गया है जो देख वासियों के साथ धोखा है। इससे प्रदेश व देश की जनता त्रस्त हो चुकी है और इसका मुंहतोड जवाब देने के लिए तैयार है। यदि जल्द ही कीमतों में कमी नही की गई तो आगामी दिनों में ब्लाक कांग्रेस पन्ना द्वारा जंगी प्रदर्शन किया जायेगा और आम जनमानस के साथ हो रही लूट को बर्दाश्त नही किया जायेगा। वही सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व विधायक श्रीकांत दुबे ने कहा कि वर्तमान में केन्द्र की भाजपा सरकार कच्चे तेल की कीमते यूपीए सरकार की तुलना में काफी कम होने के बावजूद निरंतर इनके मूल्यों में वृद्वि करती जा रही है जिसे बर्दाश्त नही किया जायेगा। पूर्व प्रत्याशी श्रीमती मीना सिंह यादव ने कहा कि मध्यप्रदेश में देश के अन्य राज्यों की तुलना में सर्वाधिक प्रवेश शुल्क व वैट वसूला जा रहा है। पूर्व जिला अध्यक्ष भास्कर देव बुन्देंला ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थाे में मूल्य वृद्वि होने से भाडा व यात्रियों के आवागमन में अधिक प्रभाव पडता है जिससे महगाई बढती जा रही है।

प्रदेश सचिव ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि पूर्व के कच्चे तेलों के रेट व वर्तमान रेत में भारी कमी है इसके बावजूद पेट्रोलियम पदार्थाे में वृद्वि होना भाजपा सरकार की नाकामी है। इसी कडी में प्रदेश प्रवक्ता राजेश तिवारी ने कहा कि प्रदेश में डीजल के मूल्य में वृद्वि होने से किसान व आम जन भारी परेशान है और वह कर्ज तले दबा जा रहा है। प्रदेश सचिव अनुराधा सेडगें ने कहा कि कर्नाटक चुनाव के तुरंत बाद तेल की कीमतों का बढना यह दर्शाता है कि भाजपा सरकार अपने मनमाफिक कीमतों का आंकलन कर रही है।

सभा को सम्बोधित करने वालें में रामकिशोर मिश्रा, रामप्रसाद यादव, डीके दुबे, कमलेश रावत, दीपक तिवारी, मृगेन्द्र सिंह गहरवार, मनोज सेन, जीतेन्द्र जाटव आदि शामिल रहे। इस विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम में मुख्य रूप से पुरूषोत्तम जडिया, वैभव थापक, राजा तिवारी, अक्षय तिवारी, रवि तिवारी, अयूब खान, फैज मोहम्मद, छोटू खान, राजा राम भईया, इस्माईल खान, वंश गोपाल राजपूत, दानचन्द्र जैन, डॉ नफीस अहमद, अरविन्द्र खरे, अंकित शर्मा, शहीद चच्चा, डमरू लाल सेन, रामचरण अहिरवार, श्रीमती तुलसा अहिरवार, अनीस पिंकू सिद्वकी, मो. इरसाद, इम्तेयाज खान, कदीर खान, नृपेन्द्र सिंह, अंका रिछारिया, रूपेश दीक्षित, निक्की खान, अब्दुल हमीद, केशव देव बुन्देला, गया प्रसाद गर्ग, दिलवाहर खान, बाल किशोर शर्मा, विनयकांत पाण्डेय, अमित शर्मा, अक्षय जैन, रशीद सौदागर, चंदर रावत, रामप्रसाद कुशवाहा, महेश प्रसाद कुशवाहा, राजेश प्रसाद मिश्रा, श्रीमती रामरती आदिवासी, राकेश आदिवासी, गुरूदत्त त्रिपाठी, संतोष कुमार शर्मा, अल्ताफ खान, अशोक  अहिरवार सहित भारी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें