< जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी के रडार पर है अल्ट्रासाउण्ड केन्द्र Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News कमियां मिलने पर होगी कड़ी कार्यवाही

जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी के रडार पर है अल्ट्रासाउण्ड केन्द्र

कमियां मिलने पर होगी कड़ी कार्यवाही

लड़कों के सापेक्ष लड़कियों की संख्या कम होने से चितित जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने कड़ा फरमान जारी किया है। एक और उन्होंने सभी अल्ट्रासाउण्ड केन्द्र की सूची तलब की तो दूसरी ओर अवैध रूप से चल रहे सेन्टर के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन शासन की उच्च प्राथमिकताओं में शामिल है। लाभार्थी का सत्यापन संवेदनशील व पारदर्शी होकर किया जाए। गड़बड़ी पाए जाने पर कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान जेएसवाई का भुगतान कम होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शीघ्र सुधार लाए जाने के निर्देश दिए गए।

रैकिंग में कराए सुधार

जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने गांधी सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति (शासी निकाय) बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि विभागीय योजना की प्रगति संतोषजनक न होने पर जनपद की रैकिंग खराब है, सुधार लाए जाने में कोई कसर न रखे। शासी निकाय बैठक में जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन की समीक्षा करते हुए कहा कि शासन की उच्च प्राथमिकता वाला कार्यक्रम है। इसमें समस्त अधिशाषी अधिकारियों को लाभार्थियों की सूची उपलब्ध करायी जा रही है। सूची को सार्वजनिक स्थल पर चस्पा करने के साथ ही प्रत्येक वार्ड में पढ़ा जाना है तथा सूची का आशाओं द्वारा घर घर सत्यापन कराया जाना है। उन्होंने कहा कि सत्यापन के साथ ही राशन कार्ड, मोबाइल नम्बर, परिवार के नए सदस्य का नाम, यदि परिवार के मुखिया की मृत्यु हो गई है तो अन्य सदस्य को मुखिया के रूप में शामिल करना है। उन्होंने कहा कि सभी कार्य चरणबद्ध व समय सीमा के अन्तर्गत ही किए जाने है। उन्होंने कहा कि बेहतर कार्य इस योजना के लिए एसडीएम को भी शामिल किया जा रहा है, जो अपने स्तर से मानिटरिंग करेंगे।

पात्रता आधारित है पंजीकरण

मास्टर ट्रेनर डा0 रवि शंकर ने बताया कि आयुष्मान भारत के अन्तर्गत ही प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन कार्य करेगा। इसमें पात्रता आधारित है और नया पंजीकरण नहीं होगा। जो चिन्हित लाभार्थी है, उनका सत्यापन कराया जाएगा, तथा जिले के सरकारी अस्पताल सहित अन्य अस्पतालों का चयन होगा। जहां चिन्हित परिवार के सदस्यों का योजन अन्तर्गत मुफ्त इलाज होगा। बैठक में जिलाधिकारी ने जनपद में लड़कों के सापेक्ष लड़कियां कम होने पर सख्त नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने स्पष्ट कहा कि यदि अल्ट्रासाउण्ड सेन्टर में जांच के दौरान गड़बड़ी मिलती है तो आईपीसी की धारा के तहत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने जनपद के सभी अल्ट्रासाउण्ड सेन्टर की सूची उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए।

भुगतान की समीक्षा

जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत किए जाने वाले भुगतान समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने बड़ागांव, गुरसरांय, मऊरानीपुर, मौंठ के एसओ आईसी के भुगतान में तेजी लाए जाने के निर्देश दिए। डन्होंने कहा कि जहां अधिक मात्र में प्रसव होते है, वहां के ओ0टी0 में एसी लगवाया जाए। बैठक में तय धनराशि के सापेक्ष व्यय की समीक्षा करते हुए उन्होंने अनटाइड फण्ड के बजट सत्र का उपयोग करने पर बधायी दी साथ ही जिलाधिकारी ने कहा कि यदि राशि व्यय करने में कोई परेशानी हो तो तत्काल अवगत कराया जाए। बैठक में सीडीओ निखिल, सीएमओ डा0 सुरेश सिंह समेत कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें