< गर्भवस्था मे बच्चों के लिए खतरनाक है वायु प्रदूषण Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News एक शोध से चैंकाने वाला सत्य सामने आया है, वायु प्रदूषण के प्रभाव "/>

गर्भवस्था मे बच्चों के लिए खतरनाक है वायु प्रदूषण

एक शोध से चैंकाने वाला सत्य सामने आया है, वायु प्रदूषण के प्रभाव से उन बच्चों मे उच्च रक्तचाप का खतरा अधिक रहता है जिनकी मां ने अपने गर्भकाल के छठे से नौवें महीने के बीच वायु प्रदूषण के उच्च स्तर का सामना किया हो। प्रदूषित हवा मे सांस लेना सीधे तौर पर गर्भ मे पल रहे बच्चे के बाल्यावस्था मे उसके हृदयवाहिनी पर प्रभाव डालता है। बाल्यावस्था में उच्च रक्तचाप व्यस्क होने पर भी उच्च रक्तचाप का कारण बनता है और यही उच्च रक्तचाप हृदय से जुड़ी बीमारियों की वजह है।

भारत दुनिया के सबसे प्रदूषित देशों में से एक है और वायु प्रदूषण को भारत की सेहत के लिए सबसे बड़ा खतरा माना जाता है। दिल्ली मे वायु प्रदूषण से जुड़े हुए राष्ट्रीय मानको का पालन किया जाए तो लोगो की उम्र बढ़ सकती है। दिल्ली का नाम तो प्रदूषण के मामले मे आगे है साथ ही आगरा, बरेली, लखनऊ, कानपुर, मुजफ्फरपुर, सीतापुर, पटना और आजमगढ़ जैसे कई शहरों और जिलों के नाम भी है। भारत के राष्ट्रीय मानकों का पालन करने पर इन जिलो मे रहने वाले लोगो की उम्र साढ़े तीन साल से लेकर 6 साल तक बढ़ सकती है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें