< चना, मसूर, सरसों क्रय केन्द्र में नहीं हो रही खरीद, किसान परेशान बना Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News शासन द्वारा किसानों का मूल्य समर्थन योजना वर्ष 2018-19 चना, मसूर, सरस"/>

चना, मसूर, सरसों क्रय केन्द्र में नहीं हो रही खरीद, किसान परेशान बना

शासन द्वारा किसानों का मूल्य समर्थन योजना वर्ष 2018-19 चना, मसूर, सरसों क्रय केन्द्र पहले तो ग्राम गिदवाहा एसएसएस कारीटोरन में बैनर लगाकर तैयार कर दिया गया था किन्तु  क्रय केंद्र स्थापित करने के लगभग 20 दिन बीतने के बावजूद किसानों का चना, मसूर, सरसों की खरीद नहीं की गयी अब यह कार्य केन्द्र मंडी मड़ावरा खोला गया है किन्तु यहाँ पर भी नतीजा सिफर रहा है। केन्द्र प्रभारी एवं मंडी सचिव एक दूसरे के दोषारोपण के विवाद में घिरा चना, मसूर, सरसों के क्रय केन्द्र में शासन के निर्देशों को ताक पर रखकर किसानों को चूना लगाया जा रहा है। क्रय केंद्र में खरीद न होने के कारण  किसानों को मजबूरी में कम दामों पर बाजार में बेंचना पड़ रहा है। शासन के समर्थन मूल्य योजना का लाभ किसानों को नहीं मिल पा रहा है। शासन द्वारा चना मूल्य समर्थन चवालीस सौ रुपया, मसूर मूल्य समर्थन 4250 रुपया निर्धारित किया गया है जबकि सरसों के मूल्य समर्थन पर सफेदा पोत दिया गया है। क्रय केन्द्र में खरीद न होने से किसान परेशान हैं।

उल्लेखनीय है कि ग्राम गिदवाहा में बीते 20 दिन पूर्व किसानों के चना, मसूर, सरसों की खरीद के लिये शासन द्वारा मूल्य समर्थन योजना अंतर्गत क्रय केन्द्र की स्थापना की गयी है। क्रय केन्द्र पर बैनर 20 दिन पूर्व लगा दिया गया, वहाँ पर खरीद शुरू नहीं हो पाई और अब मंडी मड़ावरा में क्रय केन्द्र की स्थापना की गयी है किंतु अभी तक यहाँ भी खरीद शुरू नहीं हुई है।

क्रय केन्द्र खुलने की जानकारी जब किसानों को हुई तो उन्हें आशा जगी की अब हमारे चना, मसूर, सरसों की खरीद क्रय केंद्र पर होगी जिससे कि सरकार के समर्थन मूल्य का लाभ मिलेगा किन्तु क्रय केंद्र में खरीद न होने जहाँ मायूसी हाँथ लगी वही दूसरी ओर मजबूरी में कम दामों पर सरसों, मसूर, चना बेंचना पड़ रहा है। समय पर क्रय केन्द्र न खोलने के पीछे कहीं किसानों को शासन के लाभ से वंचित करने की कोई साज़िश तो नहीं है। बतादें की वर्त्तमान में किसान परिवारों में शादी-विवाह के कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है ऐसे में खेती की फसल की आय पर पूरे कार्यक्रमों का दारोमदार है। किसानों ने जिलाधिकारी का ध्यान इस ओर आकृष्ट करते हुए चना, मसूर, सरसों क्रय केन्द्र को चालू कराये जाने की मांग की है।


चना, मसूर, सरसों की खरीद न शुरू होने के संबंध में जब क्रय केंद्र प्रभारी यूनिसअली से दूरभाष पर वार्ता हुई तो उनका जवाब था कि मंडी में जगह न मिलने के कारण खरीद चालू नहीं कर पा रहें हैं। इस बात की लिखित शिकायत मंडी सचिव को दी गई है जगह खाली नहीं कराई गई है।

- केन्द्र प्रभारी


चना, मसूर, सरसों की खरीद शुरू न हो पाने एवं क्रय केन्द्र हेतु जगह न मिलने के संबंध में जब दूरभाष पर वार्ता की गई तो उनका जवाब था कि चना, मसूर, सरसों की खरीद हेतु मंडी में जगह खाली करा दी गयी है, चना, मसूर, सरसों की खरीद करना व न करना  क्रय केंद्र प्रभारी की जिम्मेदारी है।

 - मण्डी सचिव मड़ावरा/महरौनी

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें