< शुक्रवार को पूरे रौ में दिखी गरमी, तमतमाता रहा सूरज Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News चलते लू के थपेड़े, ..दोपहर ढाई बजे का वक्त, ..तमतमाता सूरज, ..व्यस्त चौ"/>

शुक्रवार को पूरे रौ में दिखी गरमी, तमतमाता रहा सूरज

चलते लू के थपेड़े, ..दोपहर ढाई बजे का वक्त, ..तमतमाता सूरज, ..व्यस्त चौराहों पर खिंचता सन्नाटा शुक्रवार को कुछ ऐसा ही माजरा नजर आया । मई की 11तारिख 42.4 डिग्री के साथ आई। इससे शहर झुलस उठा । लू थपेड़ों ने बुन्देलों की मुश्किलें बढ़ा दीं । व्यस्त चौराहे सूने-सूने से हो गए । एक पहर बाद फिजा में तगड़ी गर्मी महसूस की गई, जिससे कमरे भभक उठे। मौसम विज्ञानियों की मानें तो आने वाले दिनों में गरमी से राहत की उम्मीद नहीं है। आंकड़ों पर गौर करें तो चार सालों में शुक्रवार सबसे गरम दिन रहा। साल 2017 में 11 मई को पारा 40 डिग्री सेल्सियस के राहा था । साल 2016 में भी भीषण गरमी पड़ी थी । तब 11 मई को 42 डिग्री ताप पहुंचा । वहीं  सुबह 5 बजकर 42 मिनट पर सूरज निकला। तब अधिकतम पारा 24.2 डिग्री सेल्सियस था। दोपहर 12 बजते ही गरमी पूरे रौ में नजर आई। शहरी गमछा, हाथ बंद दस्ताने और छाते की ओट में नजर आए। 10 से 15 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही हवाओं ने खूब सताया। साढ़े चार बजे तक पारा एक धुरी पर टिका रहा। लोग घरों में दुबके रहे। शाम छह बजे के बाद कुछ राहत मिली। पर, गरम हवाएं देर रात तक सताती रहीं।

बोले मौसम विज्ञानी

भरारी फार्म स्थित कृषि-मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दिनों में अधिकतम ताप में वृद्धि की संभावना है। हवाएं उत्तर-पश्चिम, दक्षिण पश्चिम दिशाओं से 10 से 15 किलोमीटर प्रति घण्टा की रफ्तार से चलेंगी। इन दिनों अधिकतम पारा 41 से 43 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम पारा 24 से 27 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। बताया, इन दिनों में न्यूनतम व अधिकतम आर्द्रता 13 व 28 प्रतिशत के रहने के साथ कहीं-कहीं आसमान में बहुत हल्के बादल छाए रहने की संभावना है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें