< क्रेशरों से उडने वाली धुन्ध बन रही हादसों का मुख्य कारण Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News आये दिन पत्थर मण्डी में हो रहे सडक हादसे

अभी "/>

क्रेशरों से उडने वाली धुन्ध बन रही हादसों का मुख्य कारण

आये दिन पत्थर मण्डी में हो रहे सडक हादसे

अभी तक दर्जन भर से अधिक लोगों की हो चुकी सडक हादसों में मौतें

क्रेशर मण्डी से निकलने वाले धूल के गुबार के कारण यहां की खेती तो चैपट हो ही गई परन्तु अब इस धुन्ध के चलते आये दिन कई एक्सीडेन्ट की घटनायें घट रही है। आये दिन सडक हादसे में यहां किसी न किसी की मौत हो जाती है। डीएम के आदेश के बाद भी यहां न तो कोई पानी का छिडकाव कर रहा है और न ही पेड पौधे लगवा रहा है। जिस कारण कबरई मण्डी एक खतरनाक एक्सीडेन्टल जोन का रुप धारण करती जा रही है।

गौरतलब है कि कबरई उद्योग नगरी में क्रेशरों से उडने वाली धुन्ध के कारण आये दिन कई एक्सीडेन्ट हो रहे है। जिनमें अभी छह माह के अन्दर करीब एक दर्जन से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी है।  कबरई के पचपहरा मोड के पास आये दिन एक्सीडेन्ट हो रहे है जिनमें अभी तक तीन लोगों की मौतें हो चुकी है। बता दे कि कबरई से उडने वाले धुन्ध भरे गुबार के कारण लोगों को सामने से आ रहे वाहन तक दिखाई नही पडते जिस कारण आये दिन यह वाहन दुर्घटनाओं का कारण बन रहे है। इसी को ध्यान मे ंरखते हुये जिलाधिकारी सहदेव ने शाम पांच बजे से रात्रि दस बजे तक क्रेशर प्लान्टों को बन्द किये जाने का फरमान सुनाया था और इस समय में क्रेशर प्लान्टों में पानी का छिडकाव करने के आदेश दे पौध पौधे लगाये जाने के निर्देश दिये थे। परन्तु अभी तक न ही तो क्रेशरें बन्द होती है और न ही पानी का छिडकाव किया जाता है। जिससे उडने वाली धुन्ध महामारी का रुप घारण करती जा रही हैं। इस धुन्ध के कारण यहां आये दिन सडक हादसे हो रहे है। पिछले छह माह के अन्दर कबरई पत्थर मण्डी में सडक हादसे में करीब दर्जन भर से अधिक लोगों की मौते हो चुकी है इसके बाद भी खनिज विभाग कानों में रूई डाले बैठा है।

डीएम के आदेशों का अगर कडाई से पालन कराया जाये तो सडक हादसों में कमी आ सकती है। क्योकि शाम के समय धुनध के चलते रास्ता दिखना बन्द हो जाता है अगर पानी का छिडकाव होगा तो धूल जमीन में बैठ जायेगी जिससे वातावरण साफ रहेगा। सोमवार की देर शाम अपने गांव जा रहे राजेन्द्र पुत्र मातादीन 34 वर्ष रैवारा कबरई, अजीत पुत्र रामबाबू 30 वर्ष, सुन्दरलाल पुत्र रामरतन 32 वर्ष निवासीगण सिचैरा कबरई, ब्रजपाल पुत्र भवानीदीन 28 वर्ष निवासी लिलवाही कबरई तथा आलोक पुत्र श्याम कुमार 25 वर्ष निवासी भरूवा सुमेरपुर जिला हमीरपुर जा रहे थे। तभी रास्ते में सामने से आ रहे ट्रक ने बाईक सवारों को जारदार टक्कर मार दी। जिससे सभी लोग गम्भीर घायल हो गये। इन्हें पुलिस की मदद से उपचार के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां दो की हालत गम्भीर होने पर उन्हें मेडीकल कालेज के लिये रिफर कर दिया। अगर जल्द ही पत्थर मण्डी में संचालित क्रेशरों पर कडाई से नियमों का पालन नही कराया गया तो आने वाले दिनों में हालात और भी भयाभह हो जायेगे। जिसे रोकना किसी के भी वश में नही होगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें