< बारह वर्षीय बालक के पैरों को रौंदते हुये निकल गयी बस Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News सीएचसी महरौनी से जिला अस्पताल किया गया रेफर

रविव"/>

बारह वर्षीय बालक के पैरों को रौंदते हुये निकल गयी बस

सीएचसी महरौनी से जिला अस्पताल किया गया रेफर

रविवार देर रात कस्बा क्षेत्र के महरौनी-टीकमगढ मार्ग पर बानपुर चौराहा से थोडा आगे चकबंदी आफिस के सामने एक बारह वर्षीय लडके को एक तेज गति से जा रही बस ने रौंद दिया।प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार इस हादसे में बालक के दोनों पैरों पर से बस के पहिये गुजर गये और बालक गंभीर रूप से घायल हो गया। इस दुर्घटना के बाद बस स्टाफ मौके से भाग गया। राहगीरों ने 108 नंबर ऐंबुलेंस पर मदद मांगी और आनन फानन में घायल को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भेजा गया। जहां गंभीर हालत में जिला चिकित्सालय और फिर झांसी रेफर कर दिया गया। पुलिस ने बस को अपने कब्जे में लेकर मंडी परिसर में रखवा दिया है। वहीं बस में  सवार अपने गंतव्य तक ना पहुँच पाने के कारण रात में इधर उधर परेशान भटक रहे हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राठ से चलकर इंदौर की ओर जाने वाली बस क्रमांक आर.जे. 19 पी 87676 जैसे ही रविवार रात को लगभग 11 बजे महरौनी के टीकमगढ़ रोड पर पहुँची थी कि तभी सडक के किनारे गमला ट्राली लेकर जा रहे 12 वर्षीय अमोल पुत्र हरीराम अहिरवार निवासी पुराना सौजना रोड को अचानक बस ने टक्कर मार दी और बालक के पैरों पर पहिया चढ़ गया। इसके बाद बस तेज गति से बालक को रौंदते हुये आगे बढ गयी और स्थानीय नागरिक बस के पीछे दौडे। यह देखकर बस चालक, कलीनर व अन्य स्टाफ बस को खडा करके मौके से भागने में सफल रहे। वहीं कुछ लोगों ने 108 नंबर ऐंबुलेंस की मदद से घायल को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महरौनी भिजवाया, जहां चिकित्सकों ने उसके दोनों पैरों में गंभीर चोटें बताई। प्राथमिक उपचार के बाद जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। वहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। ऐसी आशंका जताई है कि बालक का एक पैर बिल्कुल बेकार हो गया है और दूसरा पैर भी गंभीर है। ऐसे में घायल को झांसी रेफर किया जा रहा है। इधर महरौनी में इस हादसे के बाद नागरिक आक्रोशित हैं। सूचना पाकर मौके पर पहुँची पुलिस ने बस को अपने कब्जे में लेकर मंडी परिसर में रखवा दिया है। बस में सवार यात्रियों को आफत आ गयी है और इतनी रात में अन्य कोई साधन ना होने के कारण सभी अपने अपने गंतव्य तक ना पहुँच पाने के चलते चिन्तित हैं और सभी परेशान इधर उधर भटक रहे हैं। कोतवाली में घायल के परिजन पहुँच गये हैं और मुकदमा पंजीकृत करने की तैयारी चल रही है।

डीजे के साथ बिजली के गमला उठाने गया था बालक

टीकमगढ़ रोड पर सडक़ दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुआ अमोल अहिरवार (12 वर्ष) पुत्र हरीराम अहिरवार निवासी पुराना सौजना रोड एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखता है। उसका पिता पैर से अपंग है। अमोल शादी ब्याह के मौसम में बारातों के साथ बिजली की रोशनी के गमला ट्राली लेकर चलता है। रविवार रात भी वह अपनी इसी मजदूरी पर गया था और गमला ट्राली लेकर सडक के किनारे चल रहा था कि तभी अचानक यह हादसा हो गया । बस की चपेट में आ गया और जान पर बन आयी। इसके अलावा सडक की खस्ता हालत भी इस दुर्घटना के लिये जिम्मेदार बताई जा रही है ।खराब सडक की वजह से आयेदिन दुर्घटनायें बढ रही हैं। सडक का काम बहुत धीमी गति से चल रहा है और सरदर्द बनी है निर्माणाधीन सडक। वहीं डीजे संचालकों द्वारा बाल मजदूरों से काम कराने का मामले से भी नागरिक आक्रोशित हैं। ऐसे डीजे संचालकों पर बालश्रम कराने पर उचित कार्यवाही की मांग की है।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें