< बारिश से पहले लक्ष्मी तालाब का होगा कायाकल्प Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News कबीना मंत्री ने कहा सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है तालाब का "/>

बारिश से पहले लक्ष्मी तालाब का होगा कायाकल्प

कबीना मंत्री ने कहा सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है तालाब का विकास

1215.15 लाख रू. की राशी के कार्यो का शिलान्यास व लोकार्पण

समीक्षा बैठक में महापौर और विधायकों ने रखी जनसमस्यायें

प्रदेश के संसदीय कार्य, नगर विकास, शहरी समग्र विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास के निर्माण में गुणवत्ता का विषेश ध्यान रखा जाये तथा अमृत योजना में प्रस्तावित कार्यो को जल्द पूर्ण किया जाये ताकि जनता उनका लाभ ले सके । प्रदेश सरकार के जनकल्याण के कार्य गुणवत्ता के साथ समय से पूरे किये जाये । लक्ष्मीतालाब का कार्य 50 दिवस में पूरा किया जायें, जिसकी स्वयं मनीटरिंग की जायेगी। पेयजल समस्या का प्राथमिकता से निस्तारण किया जायें। जन प्रतिनिधियों से लगातार सम्पर्क करें और कार्यो की जानकारी दे । सपरार बांध में ट्यूब बैल 5 दिन में चालू न करने पर जीएम जल संस्थान को अनिवार्य सेवानिवृत्त कर दिया जायेगा। यह चेतावनी देते हुए वार्डो में गठित स्वच्छ वातावरण प्रोत्साहन समिति का बेहतर उपयोग कर आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाये। कम समय में अधिक कार्य किया जाता है इस चुनौती को अधिकारी स्वीकार करें।

मंत्री संसदीय कार्य, नगर विकास, शहरी समग्र विकास तथा नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन सुरेष कुमार खन्ना ने सर्किट हाउस में विभागीय कार्यो की समीक्षा करते हुये उपस्थित अधिकारियों को निर्देश व चेतावनी भी दी। उन्होने 1215.15 लाख रू. की राशी के कार्यो का शिलान्यास व लोकार्पण किया। जिसमें 7 शिलान्यास 2 लोकार्पण शामिल है। उन्होंने सभी कार्य समय से पूर्ण करने पर विशेष बल देते हुए कहा कि फोकस लक्ष्मीतालाब की सफाई व उसे पयर्टन के रूप में विकासित करना है वह भी लगभग एक माह में उन्होंने कहा कि निरीक्षण में जो कार्य हो रहे है उनमें तेजी लायें। जल निकासी के लिये अधिक से अधिक पम्प लगाये ताकि जल्द पानी तालाब से खाली हो सके। उन्होंने कहा कि इस कार्य के साथ जो नाले तालाब में गिर रहे है उन्हें डायवर्ट भी किया जायें तभी कार्य जल्द होगा। सिल्ट सफाई कार्य विभाग द्वारा किया जाना है अतः जेसीबी से कार्य तीव्र गति से कराये। उन्होंने कहा कि वर्शा से पूर्ण सभी कार्य हो जाने चाहिये। उन्होंने कहा कि मन से काम करने की जिद और चैलेन्ज को स्वीकार कर काम करें। कार्य में धनराशि की कमी नहीं होने दी जायेगी। पेयजल समस्या का निदान प्राथमिकता से किया जाये। स्मार्ट सिटी के लिये भी जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव प्राप्त करें। जनपद में पेयजल के स्थाई निदान हेतु उन्होंने अमृत योजना के तहत लगभग 700 करोड़ की योजना के सम्बन्ध में डीएम को पाइप लाइन हेतु एलाइमेन्ट देख फाइनल करने के निर्देश दिये। उन्होंने बराठा पेयजल योजना तैयार करने हेतु धनराशि जल्द उपलब्ध कराये जाने की जानकारी दी। बैठक में उपस्थित जन प्रतिनिधियों के निशाने पर पेयजल विभाग रहे, मेयर रामतीर्थ सिंघल ने जल संस्थान के कार्यो पर गहरा अंसतोष् व्यक्त करते हुये कहा कि धनराशि 25 लाख उपलब्ध कराने के बाद भी जल संस्थान हैण्डपम्प ठीक नहीं कर रहा विभाग जो हैण्डपम्प ठीक किये वह 3 दिन में पुनः खराब हो गये। नगर विधायक रवि शर्मा ने नगर निगम क्षेत्र से जल संस्थान के स्थान पर नगर निगम द्वारा पेयजल व्यवस्था कराये जाने का सुझाव दिया, जिसे मंत्री ने स्वीकार करते हुये जल्द कराये जाने का आश्वासन दिया। उन्होंने जल संस्थान संचालित वाटरटमेन्ट प्लांट लगभग 15 सालो से मात्र मोटर जल जाने से बंद पड़ा है यदि प्लांट चालू रहता तो नगर में 6.30 एम.एल.डी पानी की आपूर्ति होती और जल संकट में कमी होती।

विधायक गरौठा जवाहर लाल राजपूत ने कहा कि गुरसरांय पेयजल हेतु योजना तैयार की गई लेकिन अभी तक जल निगम द्वारा डी.पी.आर नहीं बनायी गई। उन्होंने गुरसंराय में हैण्डपम्प को जल्द रीबोर व ठीक कराये जाने को कहा कि ताकि जलापूर्ति बनी रहे। विधायक मऊरानीपुर बिहारी लाल आर्य ने क्षेत्र में पेयजल संकट की जानकारी दी तथा उन्होंने बताया कि 203 करोड़ की योजना मऊरानीपुर के लिये तैयार की गई, जिसके पूरा होने से 70-80 गांवो में पेयजल समस्या हल हो जायेगी। उन्होंने योजना का काम जल्द प्रारम्भ कराये जाने का सुझाव दिया। बैठक में प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह ने अधिकारियों को ताकीद करते हुये कहा कि जन प्रतिनिधियों से सम्पर्क करते रहे साथ ही पेयजल हेतु प्राप्त राशि की जानकारी उपलब्ध कराये तथा उसके सापेक्ष हैण्डपम्प स्थापित करने की जगह रीबोर की सूची प्राप्त करें। उन्होंने लक्ष्मीतालाब के सम्बन्ध में कहा कि जो नाले आ रहे है। उन्हें तालाब मे जाने से रोका जाये तभी कार्य हो सकेगा अधिक मशीन व मेन पावर का इस्तेमाल करें ताकि समय से कार्य पूर्ण हो सके। इस मौके पर सांसद प्रतिनिधि डा. जगदीश सिंह चौहान, महानगर अध्यक्ष प्रदीप सरावगी सहित मण्डलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव, जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी, नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया, एडीएम हरिषंकर, जल संस्थान के अधिकारी आदि मौजूद रहे।

 

गरीब का घर

आवास योजना के तहत यूपी में चार लाख आवास स्वीकृत किए जा चुके है। जिसमें ढ़ाई लाख रूपए उत्तर प्रदेश और केन्द्र सरकार की ओर से उस व्यक्ति को दिए जा रहे है जिसके पास 21 मीटर से 30मीटर तक का स्थान है। इतने स्थान में दो कमरे का मकान बन जाएगा। जरूरतमंदों के सर पर खुद की छत बन जाएगी। ज्यादातर जनता खुशी और प्रसन्नता महसूस करेगी।

इनका हुआ शिलान्यास

सर्किट हाउस में साढे 11 करोड़ की योजना शिलान्यास किया गया। अमृत योजना के तहत 6 पार्क का कार्य शुरू हो चुका है। इसके अलावा 900 करोड़ की स्कीम पाइप लाइन में जिसमें से 36 करोड़ रूपए झांसी को प्राप्त हो चुका है। माता टीला से पानी लाने की योजना पूरी होने के बाद 40 – 50 साल तक जनता को राहत रहेगी।

विधायक की कोशिश

नगर विधायक रवि शर्मा शव दाह गृह की कोशिश रंग लायी है। शव दाह गृह के लिए जल्द ही 85 लाख रूपए व्यवस्था हो जाएगी। कबीना मंत्री ने अपील करते हुए कहा कि स्वच्छता हमारे जीवन का अंग होना चाहिए। 70 फीसदी से ज्यादा बीमारियां गंदगी से फैलती है। उन्होंने हर वार्ड में सफाई कर्मचारी उपलब्ध कराने की बात भी कहीं।

ओडीएफ हुए वार्ड

मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि झांसी नगर सभी वार्ड ओडीएफ घोषित हो चुके है। स्व्च्छ वातावरण प्रोत्साहन समिति के माध्यम से आम जनता को लगातार जागरूक किया जा रहा है। जिसमें 7 से 15सदस्य माउथ पब्लिसिटी की जाएगी। वर्तमान में बीस वार्डों के कूड़ा कलेक्शन से खाद बनायी जा रही है। कान्हा गोशाला के लिए प्रस्तावित आधी राशि आवंटित की जा चुकी है।

इनका हुआ लोकर्पण

वार्ड नंबर 45 लक्ष्मी गेट के बाद एपेक्स सौन्दर्यीकरण के लिए 27 लाख 55 हजार का काम कराया गया है। र्वाउ नंबर 15 में गाय को आश्रय हेतु 29 लाख से ज्यादा की योजना का लोकार्पण किया गया। उन्होंने ये भी कहा कि गडडा मुक्त सड़क अभियान सतत प्रक्रिया है। ये रोज इस्तेमाल होने वाली चीज है। लोगों को आवागमन मे दिक्कत न हो ये सभी की प्राथमिकता हे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें