< शासन की मंशानुरूप करायें विकास कार्य: सभापति Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विद्युत उपकेन्द्रों की धीमी प्रगति पर जताया असंतोष, विकास "/>

शासन की मंशानुरूप करायें विकास कार्य: सभापति

विद्युत उपकेन्द्रों की धीमी प्रगति पर जताया असंतोष, विकास भवन के कार्यो की टीएसी जांच के दिए निर्देश

समिति ने 50 लाख से ऊपर के निर्माण कार्यो व योजनाओं की बिन्दुवार की समीक्षा

आंवला, बहेरा, चिरौंजी, महुआ के क्रय को खुलेंगे दस सब स्टेशन

उत्तर प्रदेश विधान मण्डल की सार्वजनिक उपक्रम एवं निगम की संयुक्त समिति की द्वितीय उप समिति के सभापति रामचन्द्र यादव की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों, कार्यदायी संस्थाओं के साथ बैठक कर 50 लाख से ऊपर के निर्माण कार्यों की समीक्षा की गई।

उन्होंने जिला कारागार कर्वी, राजकीय महाविद्यालय पाही, भजन संध्या स्थल एवं परिक्रमा मार्ग के विकास का कार्य, स्वदेश योजना के अंतर्गत, परिक्रमा पथ पर कवर शेड, फूड प्लाजा, माडर्न टाॅयलेट, रामघाट व मध्य प्रदेश को जोड़ने के लिए फुट ओवरब्रिज, परिक्रमा मार्ग में मार्डन टाॅयलेट को उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा कराये गये कुछ कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिऐ। कहा कि जिन कार्यों में कार्य शुरू नहीं हुए हैं उन्हें जिलाधिकारी 15 मई तक शुरू करा दें और एक माह बाद कार्यों की प्रगति की रिर्पोट समिति को दें। अधिशाषी अभियंता आवास विकास के अनुपस्थित रहने पर स्पष्टीकरण लेने के निर्देश जिलाधिकारी को दिये। जिनके द्वारा कराये गये निर्माणों में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रूकमाखुर्द, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रैपुरा के अलावा राजकीय हाई स्कूलों में रौली कल्याणपुर, भरतकूप, नोनार, सुरसेन, सेमरिया चरणदासी, बियावल, इटवा डुडैला, एलेहा बढ़ैया, बड़ी मड़ैयन, चांदी, टिकरी कार्यों में तेजी लाने और तत्काल बाउण्ड्री वाल बनवाये जाने के निर्देश दिये।

समिति ने उत्तर प्रदेश वित्त एवं विकास निगम लिमिटेड के वर्ष 2017-18 में पं दीन दयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना के तहत 640 लक्ष्य के सापेक्ष 80 लाभार्थियों को अनुदान दिया गया, परन्तु निजी भूमि दुकान निर्माण योजना, लाण्ड्री ड्राइक्लीनर्स योजना में अभी तक किसी व्यक्तियो का चयन नहीं किया गया है। जिसमें इच्छुक व्यक्तियों से सम्पर्क एवं संवाद कर योजना को शुरू कराने के निर्देश दिया। मऊ-सराय अकिल मार्ग पर यमुना नदी मेे महिला घाट उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम द्वारा बनाया जा रहा है। जिसके संबंध में कहा कि जो भी समस्याएं आयें उच्च अधिकारियों को पत्राचार के माध्यम से बतायें। तभी कार्य समय से हो सकेगा। जिसके द्वारा नौ अतिरिक्त कार्य कराये जा रहे हैं। जिन्हें बुकलेट पर सम्मिलित नहीं किया गया है। जिसकी सूची आज ही उपलब्ध करायें। पुलिस अधीक्षक कार्यालय व आवास का निर्माण कार्य यूपी प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा पूर्ण कर लिया गया है। सरकार की मंशा के अनुसार वर्तमान में निर्धारित रोस्टर के अनुसार ग्रामीण में 17 घंटे, तहसील में 18 घंटे व जिला मुख्यालय में 23 घंटे विद्युत आपूर्ति पायी गई। सौभाग्य योजना के तहत ग्रामों का ऊर्जीकरण कार्यदायी संस्था एनसीसी लिमिटेड हैदराबाद द्वारा कराया जा रहा है। जिसमें 355 ग्रामों के सापेक्ष 244 ग्रामों व 1196 मजरों के सापेक्ष 880 मजरों में विद्युतीकृत का कार्य पूर्ण करा दिया गया है। शेष ग्रामों व मजरों में कार्यदायी संस्था द्वारा पोल व तार लगाने का कार्य किया जा रहा है। शेष बचे कार्यों को जून 2018 तक पूरा करायें। जिलाधिकारी से कहा कि कार्य की देखरेख के लिए अपर जिलाधिकारी को नामित किया जाये। कार्य पूर्ण होने की सूचना से समिति को भी अवगत करायें। उन्होंने कहा कि जिन ग्रामों व मजरों में कार्य पूर्ण हो गये वहां कितने तार, खम्भे, धनराशि व्यय हुई है, जिसको पेंटिंग से लिखायें। यह भी देखा जाये कि सरकार जिस मंशा के अनुसार धनराशि उपलब्ध करायी है जिसके अनुसार कार्य सम्पन्न हो रहा है या नहीं इसको भी देखा जाये।

सौभाग्य या अन्य योजना से बस्तियों व मजरों का शत प्रतिशत विद्युतीकरण किया जाये। कोई समस्या हो तो जन प्रतिनिधि, जिलाधिकारी के संज्ञान में लाकर समस्या को दूर करें। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं के विद्युत संयोजन 41252 के सापेक्ष 20546 बीपीएल, एपीएल उपभोक्ताओं को दिया गया है। जिन्हें शत प्रतिशत संयोजन करने के निर्देश दिये।

विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत छीबों, कैलहा, धुसमैंदान, खोंपा, न्यू रामनगर, न्यू सरैंया में 33/11 केवी विद्युत उपकेन्द्रों की प्रगति धीमी पाये जाने पर नराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि 20 जून तक उपकेन्द्रों का निर्माण कार्य पूरा किया जाये। इसके पश्चात् लोकार्पण भी कराया जाये। उत्तर प्रदेश वन निगम द्वारा तेंदू पत्ता, जड़ी बूटी के उत्पादन मात्रा अंकित पायी गयी, परन्तु रायल्टी अंकित न पाये जाने पर अलग से सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में आंवला, बहेरा, चिरौंजी, महुआ के क्रय को 10 सब स्टेशन खुलवाया जाना है। उसकी सूची विधायक व जिलाधिकारी को दी जाये और प्रचार-प्रसार भी किया जाय। उत्तर प्रदेश राजय कर्मचारी निगम की कैन्टीन तहसील में स्थापित है जिसमें नियमानुसार सामान बेचा जा रहा है। यूपी स्टेट कान्स्ट्रक्शन कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा परिवहन निगम का बस स्टैण्ड बेड़ी पुलिया के पास बनाया जा रहा है। जिसे समय से पूरा कराने के निर्देश दिये गये।

उन्होंने कहा कि योजनाओं को निर्धारित समय के अंतर्गत पूर्ण किया जाये। अब स्टीमेट रिवाइज की पुनरावृत्ति न की जाये। मोटे अनाजों के क्रय केन्द्र खोले जायें। जिससे किसान अपने अनाज बेच सकें। इस संबंध में बताया गया कि भौंरी में खोला जा रहा है। जिसका तत्काल उद्घाटन विधायक व जिलाधिकारी के माध्यम से कराया जायेगा। उत्तर प्रदेश सहकारी संघ लिमिटेड द्वारा ग्लास फैक्ट्री बरगढ़ की हाईकोर्ट में चल रहे मुकदमें के फैसले की रिर्पोट समिति को उपलब्ध करायी जाय। आवास विकास परिषद कर्वी में किसानों की जमीन अधिकृत की गई थी। इस प्रकरण को जिलाधिकारी को स्वयं देखने के निर्देश दिये। बीज विकास निगम द्वारा आठ किसानों को लाभान्वित किया गया है। इस कार्य का सत्यापन कराया जाये। उन्होंने कहा कि बैठक में जो महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा हुई हैं प्रदेश सरकार की उन्नति के लिए इन कार्यों को तत्काल पूरा कराया जाये। सरकार विकास चाहती है।

इसमें अधिकारी, कर्मचारी अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। ताकि चल रहे कार्य समय से पूरा हो सके। मुख्य विकास अधिकारी जय प्रकाश पाण्डेय ने आभार प्रकट करते हुए कहा कि निर्देशानुसार कार्यों में प्रगति लाकर पूरा किया जायेगा। बैठक में समिति के सदस्यों में तिंदवारी विधायक बृजेश कुमार प्रजापति, सरेनी रायबरेली विधायक धीरेन्द्र बहादुर सिंह, बिन्दकी फतेहपुर विधायक कर्ण सिंह पटेल, कर्वी विधायक चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय, मऊ-मानिकपुर विधायक आरके सिंह पटेल, सुल्तानपुर विधायक सूर्यभान सिंह, जिलाधिकारी विशाख जी., पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा सहित जनपद स्तरीय अधिकारी, कार्यदायी संस्था के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

तत्पश्चात् समित ने निर्माणाधीन विकास भवन को कार्यदायी संस्था सीएनडीएस का निरीक्षण किया। जिसमें मुख्य विकास अधिकारी कक्ष को देखा। मुख्यमंत्री, डा भीमराव अम्बेडकर की फोटो न लगी होने पर निर्देश दिये कि तत्काल फोटो लगायी जाये। उन्होंने कहा कि कार्यालयाध्यक्षों के यहां उक्त फोटो नहीं लगायी गई है। तत्काल लगायी जाये। उन्होंने दूसरे मंजिल का भी निरीक्षण किया। जिसमें कार्य संतोषजनक न पाये जाने पर टीएसी जांच के निर्देश दिये। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि कार्यदायी संस्था को जिन तिथियों में कितनी धनराशि उपलब्ध करायी गई है। उसका पूर्ण विवरण समिति को तत्काल उपलब्ध कराया जाय।

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में स्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, .

अन्य खबर

चर्चित खबरें