< लोकपाल सागर तालाब पर मनाया गया जल संसद कार्यक्रम Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News मंत्री सुश्री महदेले ने ढाई लाख स्वयं तथा 18 लाख रूपये जनसम्"/>

लोकपाल सागर तालाब पर मनाया गया जल संसद कार्यक्रम

मंत्री सुश्री महदेले ने ढाई लाख स्वयं तथा 18 लाख रूपये जनसम्पर्क निधि से देने की घोषणा की

कलेक्टर ने आमजनों से लोकपाल सागर जीर्णोद्धार में सहयोग की अपील की

ग्राम स्वराज अभियान के तहत आज लोकपाल सागर तालाब पर जल संसद का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सुश्री कुसुम सिंह महदेले मंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा माॅ सरस्वती जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया गया। इस अवसर पर उन्होंने अपील करते हुए कहा कि सभी लोग लोकपाल सागर तालाब के गहरीकरण के लिए सहयोग करें।

जन अभियान परिषद योजना आर्थिक सांख्यिकी विभाग द्वारा जल संसद का आयोजन किया गया था। इस अवसर पर उपस्थितों को सम्बोधित करते हुए मंत्री सुश्री महदेले ने कहा कि विगत वर्षो में आप लोगों के जन सहयोग से नगर के धरम सागर तालाब के गहरीकरण का कार्य किया गया था। अब आपके नगर की सीमा से लगे लोकपाल सागर तालाब के लिए भी आप लोग उदारतापूर्वक सहयोग प्रदान करें। उन्होंने कहा कि कुडीया नाला एवं किलकिला फीडर में सुधार कार्य कराया जाए जिससे तालाब में बरसात का पानी आसानी से संग्रहित हो सके। उनके आव्हान पर रूप कुशवाहा ने 5 हजार रूपये एवं सरोज कुशवाहा ने 11 हजार रूपये देने की बात कही। स्वयं मंत्री सुश्री महदेले ने उदारतापूर्वक स्वयं के द्वारा 2 लाख 50 हजार रूपये तथा जनसम्पर्क निधि से 18 लाख रूपये देने की घोषणा करने के साथ मौके पर ही जनसम्पर्क निधि का अनुशंसा पत्र कलेक्टर श्री मनोज खत्री को सौंप दिया।

कलेक्टर श्री मनोज खत्री ने जल के महत्व को विस्तारपूर्वक समझाया। उन्होंने कहा कि लोकपाल सागर तालाब 100 वर्ष से अधिक पुराना है। इसका क्षेत्रफल 300 एकड के आसपास है। तालाब का जल संग्रहण क्षेत्र लगभग 15 किलो मीटर है। इसमें पानी भरने से आसपास के गांव के किसानों को कृषि भूमि की सिंचाई होने के साथ-साथ तालाब के चारों तरफ का जल स्तर नीचे नही जाता। उन्होंने कहा कि किलकिला फीडर एवं कुडिया नाला में आवश्यकतानुसार कार्य कराया जाए इस आशय के निर्देश कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग को दिए। उन्होंने बताया कि जल संरक्षण एवं संवर्धन के अन्तर्गत जिले के 126 तालाबों की गाद निकासी का कार्य कराया जा रहा है। आज के दिन प्रत्येक विकासखण्ड में एक-एक जल स्त्रोत पर इसी तरह के कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को जल संरक्षण के कार्य से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने समाज सेवी संगठनों एवं आमजनों से अपील करते हुए कहा कि आप सभी स्वैच्छा से तालाब के गहरीकरण में सहयोग प्रदान करें।

जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रविराज सिंह यादव ने जल संरक्षण के महत्व पर प्रकाश डालते हुए जिलेभर में वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य कराया जाए। उन्होंने कहा कि वर्षा का जल अनावश्यक रूप से बह जाता है इसलिए जरूरी है कि घरों में भी वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अनिवार्य किया जाए। नगरपालिका अध्यक्ष श्री मोहनलाल कुशवाहा ने कहा कि तालाब हमारी धरोहर है इसका संरक्षण हमें करना चाहिए। इस कार्यक्रम में पूरे जिले के लोगों को सहयोग प्रदान करना चाहिए। जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री माधवेन्द्र सिंह ने कहा कि पहले खेतों में जल भण्डारण एवं संरक्षण का कार्य किया जाता था। अब लोगों ने मेड बंधान खत्म कर दिए हैं और मेडबंधान से निकाली गयी भूमि पर खेती कर रहे हैं। इससे फसल बोनी का रकवा का थोडा तो बढ़ा है लेकिन जल संकट उत्पन्न हो गया है जिससे आगे चल कर भयावह स्थिति निर्मित होगी। उन्होंने किसान भाईयों से अपील करते हुए कहा कि खेतों में जल संरक्षण का कार्य अनिवार्य रूप से करें।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रविराज सिंह यादव ने 51 हजार रूपये एवं जिला पंचायत अध्यक्ष निधि से 50 हजार रूपये, नगरपालिका पूर्व अध्यक्ष श्री बृजेन्द्र सिंह बुन्देला ने 51 हजार रूपये, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री माधवेन्द्र सिंह ने 21 हजार रूपये, नगरपालिका अध्यक्ष श्री मोहनलाल कुशवाहा, संतोष तिवारी, नीलमराज शर्मा, राजेश गौतम, सुधाकर दीक्षित, रेहान मोहम्मद, अंकित शर्मा ने 11-11 हजार रूपये तथा कुसुम कुशवाहा, हल्काई, लक्ष्मी शर्मा, खजुराहो फर्नीचर ने 5100-5100 रूपये आदि के अलावा भी मौके पर उपस्थित अन्य लोगों ने भी सहयोग राशि प्रदान करने की बात कही। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ. गिरीश कुमार मिश्रा, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन श्री ददौरिया, जनपद पंचायत पन्ना की अध्यक्ष श्रीमती शोभा सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पन्ना श्री विनय द्विवेदी, मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री अरूण पटैरिया, जनपद पंचायत पन्ना की मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री तपस्या जैन, तहसीलदार पन्ना श्रीमती बबीता राठौर, जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री आशीष तिवारी के साथ संबंधित अधिकारी, कर्मचारी, क्षेत्री जनप्रतिनिधि एवं बडी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें